Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 May 2023 · 1 min read

चूड़ी पायल बिंदिया काजल गजरा सब रहने दो

चूड़ी पायल बिंदिया काजल गजरा सब रहने दो
खीच के बाँधो जुल्फों को एक लट गाल पर रहने दो..❣️❣️❣️

विशाल बाबू ✍️✍️

532 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ये मन रंगीन से बिल्कुल सफेद हो गया।
ये मन रंगीन से बिल्कुल सफेद हो गया।
Dr. ADITYA BHARTI
शर्द एहसासों को एक सहारा मिल गया
शर्द एहसासों को एक सहारा मिल गया
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
चलती है जिन्दगी
चलती है जिन्दगी
डॉ. शिव लहरी
कभी वो कसम दिला कर खिलाया करती हैं
कभी वो कसम दिला कर खिलाया करती हैं
Jitendra Chhonkar
कहां तक चलना है,
कहां तक चलना है,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
रिश्ते से बाहर निकले हैं - संदीप ठाकुर
रिश्ते से बाहर निकले हैं - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
स्वर्णिम दौर
स्वर्णिम दौर
Dr. Kishan tandon kranti
माँ वाणी की वन्दना
माँ वाणी की वन्दना
Prakash Chandra
2892.*पूर्णिका*
2892.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मोहब्बत अधूरी होती है मगर ज़रूरी होती है
मोहब्बत अधूरी होती है मगर ज़रूरी होती है
Monika Verma
*** एक दौर....!!! ***
*** एक दौर....!!! ***
VEDANTA PATEL
वृद्धाश्रम में कुत्ता / by AFROZ ALAM
वृद्धाश्रम में कुत्ता / by AFROZ ALAM
Dr MusafiR BaithA
बड़ी ठोकरो के बाद संभले हैं साहिब
बड़ी ठोकरो के बाद संभले हैं साहिब
Jay Dewangan
*मंत्री जी भी कभी किसी दिन, ई-रिक्शा पर बैठें तो (हिंदी गजल-
*मंत्री जी भी कभी किसी दिन, ई-रिक्शा पर बैठें तो (हिंदी गजल-
Ravi Prakash
मेरा भारत देश
मेरा भारत देश
Shriyansh Gupta
मोनू बंदर का बदला
मोनू बंदर का बदला
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
चलो कल चाय पर मुलाक़ात कर लेंगे,
चलो कल चाय पर मुलाक़ात कर लेंगे,
गुप्तरत्न
जितना खुश होते है
जितना खुश होते है
Vishal babu (vishu)
🌷मनोरथ🌷
🌷मनोरथ🌷
पंकज कुमार कर्ण
Kabhi kabhi har baat se fark padhta hai mujhe
Kabhi kabhi har baat se fark padhta hai mujhe
Roshni Prajapati
जिन्दगी से भला इतना क्यूँ खौफ़ खाते हैं
जिन्दगी से भला इतना क्यूँ खौफ़ खाते हैं
Shweta Soni
अच्छा ही हुआ कि तुमने धोखा दे  दिया......
अच्छा ही हुआ कि तुमने धोखा दे दिया......
Rakesh Singh
काग़ज़ पर उतार दो
काग़ज़ पर उतार दो
Surinder blackpen
पलटे नहीं थे हमने
पलटे नहीं थे हमने
Dr fauzia Naseem shad
कभी लगते थे, तेरे आवाज़ बहुत अच्छे
कभी लगते थे, तेरे आवाज़ बहुत अच्छे
Anand Kumar
विश्वकप-2023
विश्वकप-2023
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
मेरी गुड़िया
मेरी गुड़िया
Kanchan Khanna
स्वस्थ्य मस्तिष्क में अच्छे विचारों की पूॅजी संकलित रहती है
स्वस्थ्य मस्तिष्क में अच्छे विचारों की पूॅजी संकलित रहती है
Tarun Singh Pawar
रमेशराज के विरोधरस दोहे
रमेशराज के विरोधरस दोहे
कवि रमेशराज
कहाँ समझते हैं ..........
कहाँ समझते हैं ..........
Aadarsh Dubey
Loading...