Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Nov 2023 · 1 min read

चुनावी युद्ध

चुनावी युद्ध

चुनावी रण मे क्या हाल अब नेता जी का हो रहा।
वोटर के वोट से हर नेता भारी व गुब्बारा हो रहा।।
क्यो अपने सभी जरूरी कार्य व घर को छोड़ कर ?
जनता का सेवक बनने को देखो यु आतुर हो रहा।।

लीलाधर चौबिसा (अनिल)
चित्तौड़गढ़ 9829246588

1 Like · 158 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कर दिया है राम,तुमको बहुत बदनाम
कर दिया है राम,तुमको बहुत बदनाम
gurudeenverma198
जलने वालों का कुछ हो नहीं सकता,
जलने वालों का कुछ हो नहीं सकता,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
हे ! गणपति महाराज
हे ! गणपति महाराज
Ram Krishan Rastogi
काव्य में अलौकिकत्व
काव्य में अलौकिकत्व
कवि रमेशराज
हिन्दी दोहा - स्वागत
हिन्दी दोहा - स्वागत
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
एक बेरोजगार शायर
एक बेरोजगार शायर
Shekhar Chandra Mitra
प्रिय के प्रयास पर झूठ मूठ सी रूठी हुई सी, लाजवंती के गालों
प्रिय के प्रयास पर झूठ मूठ सी रूठी हुई सी, लाजवंती के गालों
kaustubh Anand chandola
कीमत क्या है पैमाना बता रहा है,
कीमत क्या है पैमाना बता रहा है,
Vindhya Prakash Mishra
भाग्य - कर्म
भाग्य - कर्म
Buddha Prakash
हम कहाँ से कहाँ आ गए हैं। पहले के समय में आयु में बड़ों का स
हम कहाँ से कहाँ आ गए हैं। पहले के समय में आयु में बड़ों का स
ख़ान इशरत परवेज़
*गैरों सी! रह गई है यादें*
*गैरों सी! रह गई है यादें*
Harminder Kaur
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हिंदी दिवस पर राष्ट्राभिनंदन
हिंदी दिवस पर राष्ट्राभिनंदन
Seema gupta,Alwar
।। श्री सत्यनारायण ब़त कथा महात्तम।।
।। श्री सत्यनारायण ब़त कथा महात्तम।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
2658.*पूर्णिका*
2658.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
एतबार इस जमाने में अब आसान नहीं रहा,
एतबार इस जमाने में अब आसान नहीं रहा,
manjula chauhan
*जब एक ही वस्तु कभी प्रीति प्रदान करने वाली होती है और कभी द
*जब एक ही वस्तु कभी प्रीति प्रदान करने वाली होती है और कभी द
Shashi kala vyas
सद्विचार
सद्विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"उतना ही दिख"
Dr. Kishan tandon kranti
होली पर बरसात हो , बरसें ऐसे रंग (कुंडलिया)*
होली पर बरसात हो , बरसें ऐसे रंग (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
क़त्ल काफ़ी हैं यूँ तो सर उसके
क़त्ल काफ़ी हैं यूँ तो सर उसके
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दोहे
दोहे
डॉक्टर रागिनी
*बेचारे नेता*
*बेचारे नेता*
दुष्यन्त 'बाबा'
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"गंगा माँ बड़ी पावनी"
Ekta chitrangini
आकुल बसंत!
आकुल बसंत!
Neelam Sharma
हर वो दिन खुशी का दिन है
हर वो दिन खुशी का दिन है
shabina. Naaz
कहो जय भीम
कहो जय भीम
Jayvind Singh Ngariya Ji Datia MP 475661
दम उलझता है
दम उलझता है
Dr fauzia Naseem shad
अंधा बांटे रेबड़ी, फिर फिर अपनों के देवे – कहावत/ DR. MUSAFIR BAITHA
अंधा बांटे रेबड़ी, फिर फिर अपनों के देवे – कहावत/ DR. MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
Loading...