Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Feb 2023 · 1 min read

चाहत

चाहत

प्यार मुहब्बत इश्क चाहत
ऐसे जैसे खुदा की इबादत
अमर प्रेम की कहानियां
ये सब सुनने में अच्छा लगता है
सपनों के सुंदर संसार मे विचरण लगता है
पर आज ये होती नहीं हकीकत
बनते तो है इनके मकान लेकिन बिना छत
मुहब्बत यूँ ही बह जाती है
रूह पर प्यासी रह जाती है
आंखों में बस जाते दर्द के कतरे
ज़िन्दगी चुपचाप सह जाती है
लेती नही मुहब्बत दिल से इजाजत
पर दिल को कर जाती है हताहत
ऐ दुनिया वालो कभी मुहब्बत नहीं करना
बिना मौत के पल पल नहीं मरना
धोखे तो इस राह में बहुत हैं
करो तो कदम फूँक फूँक कर रखना
मत करना अपने ही दिल को आहत
सच बताएं बुरी बला होती है चाहत

डॉ अर्चना गुप्ता

1 Like · 223 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
माँ
माँ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
अधरों को अपने
अधरों को अपने
Dr. Meenakshi Sharma
!............!
!............!
शेखर सिंह
शीर्षक - 'शिक्षा : गुणात्मक सुधार और पुनर्मूल्यांकन की महत्ती आवश्यकता'
शीर्षक - 'शिक्षा : गुणात्मक सुधार और पुनर्मूल्यांकन की महत्ती आवश्यकता'
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
// प्रीत में //
// प्रीत में //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अन्तर्राष्टीय मज़दूर दिवस
अन्तर्राष्टीय मज़दूर दिवस
सत्य कुमार प्रेमी
मुर्दे भी मोहित हुए
मुर्दे भी मोहित हुए
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
अपना चेहरा
अपना चेहरा
Dr fauzia Naseem shad
कुसुमित जग की डार...
कुसुमित जग की डार...
डॉ.सीमा अग्रवाल
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
आप कुल्हाड़ी को भी देखो, हत्थे को बस मत देखो।
आप कुल्हाड़ी को भी देखो, हत्थे को बस मत देखो।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
13. पुष्पों की क्यारी
13. पुष्पों की क्यारी
Rajeev Dutta
अधखिली यह कली
अधखिली यह कली
gurudeenverma198
वो मुझे पास लाना नही चाहता
वो मुझे पास लाना नही चाहता
कृष्णकांत गुर्जर
हकीकत पर एक नजर
हकीकत पर एक नजर
पूनम झा 'प्रथमा'
संन्यास के दो पक्ष हैं
संन्यास के दो पक्ष हैं
हिमांशु Kulshrestha
विद्यार्थी को तनाव थका देता है पढ़ाई नही थकाती
विद्यार्थी को तनाव थका देता है पढ़ाई नही थकाती
पूर्वार्थ
🥀 *✍अज्ञानी की*🥀
🥀 *✍अज्ञानी की*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
3018.*पूर्णिका*
3018.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बड़ा ही अजीब है
बड़ा ही अजीब है
Atul "Krishn"
Dictatorship in guise of Democracy ?
Dictatorship in guise of Democracy ?
Shyam Sundar Subramanian
संघर्षों को लिखने में वक्त लगता है
संघर्षों को लिखने में वक्त लगता है
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
"सफलता"
Dr. Kishan tandon kranti
स्वीकारोक्ति :एक राजपूत की:
स्वीकारोक्ति :एक राजपूत की:
AJAY AMITABH SUMAN
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Meera Singh
नव संवत्सर आया
नव संवत्सर आया
Seema gupta,Alwar
कौन सुनेगा बात हमारी
कौन सुनेगा बात हमारी
Surinder blackpen
पुष्प रुष्ट सब हो गये,
पुष्प रुष्ट सब हो गये,
sushil sarna
तुम बस ज़रूरत ही नहीं,
तुम बस ज़रूरत ही नहीं,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
शब्द मधुर उत्तम  वाणी
शब्द मधुर उत्तम वाणी
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...