Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jun 2023 · 1 min read

चश्मा

धीरे-धीरे आ गई,जीवन की वो शाम।
बिन चश्मा होता नहीं,मुझ से कोई काम।।
मुझ से कोई काम,न होता लिखना पढ़ना।
उमर नजर का दोष,धुंधला सब कुछ दिखना।
हर्ष और संघर्ष,चले जीवन के तीरे।
मगर हुआ स्पष्ट,नजरिया धीरे-धीरे।।
-लक्ष्मी सिंह
नई दिल्ली

4 Likes · 265 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from लक्ष्मी सिंह
View all
You may also like:
अपने हाथ,
अपने हाथ,
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
एक शब के सुपुर्द ना करना,
एक शब के सुपुर्द ना करना,
*Author प्रणय प्रभात*
Someone Special
Someone Special
Ram Babu Mandal
3274.*पूर्णिका*
3274.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
नेतागिरी का धंधा (हास्य व्यंग्य)
नेतागिरी का धंधा (हास्य व्यंग्य)
Ravi Prakash
* विदा हुआ है फागुन *
* विदा हुआ है फागुन *
surenderpal vaidya
*
*"सरहदें पार रहता यार है**
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
लोग गाली देते हैं,👇👇👇👇👇
लोग गाली देते हैं,👇👇👇👇👇
SPK Sachin Lodhi
यादों को दिल से मिटाने लगा है वो आजकल
यादों को दिल से मिटाने लगा है वो आजकल
कृष्णकांत गुर्जर
मेरी सोच (गजल )
मेरी सोच (गजल )
umesh mehra
धरा कठोर भले हो कितनी,
धरा कठोर भले हो कितनी,
Satish Srijan
ये  कहानी  अधूरी   ही  रह  जायेगी
ये कहानी अधूरी ही रह जायेगी
Yogini kajol Pathak
मेरी एक बार साहेब को मौत के कुएं में मोटरसाइकिल
मेरी एक बार साहेब को मौत के कुएं में मोटरसाइकिल
शेखर सिंह
इंसानियत का कत्ल
इंसानियत का कत्ल
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
क्यूँ भागती हैं औरतें
क्यूँ भागती हैं औरतें
Pratibha Pandey
"सोज़-ए-क़ल्ब"- ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
मेरा विज्ञान सफर
मेरा विज्ञान सफर
Ms.Ankit Halke jha
(19)
(19)
Dr fauzia Naseem shad
जीवन और मृत्यु के मध्य, क्या उच्च ये सम्बन्ध है।
जीवन और मृत्यु के मध्य, क्या उच्च ये सम्बन्ध है।
Manisha Manjari
मेरे सपनों का भारत
मेरे सपनों का भारत
Neelam Sharma
उपेक्षित फूल
उपेक्षित फूल
SATPAL CHAUHAN
عظمت رسول کی
عظمت رسول کی
अरशद रसूल बदायूंनी
चेहरे पर अगर मुस्कुराहट हो
चेहरे पर अगर मुस्कुराहट हो
Paras Nath Jha
तय
तय
Ajay Mishra
"तेरा साथ है तो"
Dr. Kishan tandon kranti
निशानी
निशानी
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
राम काज में निरत निरंतर
राम काज में निरत निरंतर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने पर
अंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने पर
Shekhar Chandra Mitra
नींद ( 4 of 25)
नींद ( 4 of 25)
Kshma Urmila
ऋण चुकाना है बलिदानों का
ऋण चुकाना है बलिदानों का
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...