Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 May 2022 · 1 min read

गोरे मुखड़े पर काला चश्मा

गोरे मुखड़े पर काला चश्मा
क्या खूब फबता है,
जैसे तीन चांँद जैसा सुंदर मुखड़ा,
पहले से हो,
ऊपर से काला चश्मा,
चार चांँद लगाता है।

हम भोले-भाले-काले,
कभी खुद को
तो कभी बनाने वाले को
कोसते हैं,
काले चश्मे वाले को देख,
अपनी किस्मत पर रोते हैं।

पर कभी चश्मे के पीछे से जाकर देख,
वह गोरा मुखड़ा खुद को छोड़
पूरी दुनियांँ को काला देखता है,
कभी निरीह जानवर
तो कभी फुटपाथ पर सोए
गरीबों को रौंदता है,

कभी मादक द्रव्य, देह व्यापार में
पकड़ा जाता है।
ऐसे गोरे मुखड़े पर
काला चश्मा से अच्छा
हमारा कला मुखड़ा
पर दिल का सच्चा।

(मौलिक व स्वरचित)
©® श्री रमण
बेगूसराय (बिहार)

6 Likes · 3 Comments · 1163 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
View all
You may also like:
कभी जो रास्ते तलाशते थे घर की तरफ आने को, अब वही राहें घर से
कभी जो रास्ते तलाशते थे घर की तरफ आने को, अब वही राहें घर से
Manisha Manjari
किरदार
किरदार
Surinder blackpen
सम्बन्ध
सम्बन्ध
Shaily
2822. *पूर्णिका*
2822. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
विषय--विजयी विश्व तिरंगा
विषय--विजयी विश्व तिरंगा
रेखा कापसे
रही सोच जिसकी
रही सोच जिसकी
Dr fauzia Naseem shad
अंध विश्वास एक ऐसा धुआं है जो बिना किसी आग के प्रकट होता है।
अंध विश्वास एक ऐसा धुआं है जो बिना किसी आग के प्रकट होता है।
Rj Anand Prajapati
रुसवा हुए हम सदा उसकी गलियों में,
रुसवा हुए हम सदा उसकी गलियों में,
Vaishaligoel
परिवार, प्यार, पढ़ाई का इतना टेंशन छाया है,
परिवार, प्यार, पढ़ाई का इतना टेंशन छाया है,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
विश्वास की मंजिल
विश्वास की मंजिल
Buddha Prakash
खुदा कि दोस्ती
खुदा कि दोस्ती
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
অরাজক সহিংসতা
অরাজক সহিংসতা
Otteri Selvakumar
#दोहा
#दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
खुश वही है जिंदगी में जिसे सही जीवन साथी मिला है क्योंकि हर
खुश वही है जिंदगी में जिसे सही जीवन साथी मिला है क्योंकि हर
Ranjeet kumar patre
आप कोई नेता नहीं नहीं कोई अभिनेता हैं ! मनमोहक अभिनेत्री तो
आप कोई नेता नहीं नहीं कोई अभिनेता हैं ! मनमोहक अभिनेत्री तो
DrLakshman Jha Parimal
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*दया करो हे नाथ हमें, मन निरभिमान का वर देना 【भक्ति-गीत】*
*दया करो हे नाथ हमें, मन निरभिमान का वर देना 【भक्ति-गीत】*
Ravi Prakash
💐प्रेम कौतुक-364💐
💐प्रेम कौतुक-364💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तू है जगतजननी माँ दुर्गा
तू है जगतजननी माँ दुर्गा
gurudeenverma198
कहते हैं,
कहते हैं,
Dhriti Mishra
महल चिन नेह का निर्मल, सुघड़ बुनियाद रक्खूँगी।
महल चिन नेह का निर्मल, सुघड़ बुनियाद रक्खूँगी।
डॉ.सीमा अग्रवाल
दोहा छंद विधान
दोहा छंद विधान
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
सॉप और इंसान
सॉप और इंसान
Prakash Chandra
।।सावन म वैशाख नजर आवत हे।।
।।सावन म वैशाख नजर आवत हे।।
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
बात शक्सियत की
बात शक्सियत की
Mahender Singh
मंज़र
मंज़र
अखिलेश 'अखिल'
रामधारी सिंह दिवाकर की कहानी 'गाँठ' का मंचन
रामधारी सिंह दिवाकर की कहानी 'गाँठ' का मंचन
आनंद प्रवीण
"दो नावों पर"
Dr. Kishan tandon kranti
गुरुपूर्व प्रकाश उत्सव बेला है आई
गुरुपूर्व प्रकाश उत्सव बेला है आई
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
किस्मत की लकीरें
किस्मत की लकीरें
Dr Parveen Thakur
Loading...