Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Jul 2023 · 1 min read

गुरु पूर्णिमा

गुरु पूर्णिमा
जीव मात्र की प्रथम
“पूर्ण ~ गुरु ~ माँ

1 Like · 157 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
'लक्ष्य-1'
'लक्ष्य-1'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कहाँ-कहाँ नहीं ढूंढ़ा तुमको
कहाँ-कहाँ नहीं ढूंढ़ा तुमको
Ranjana Verma
सर्द और कोहरा भी सच कहता हैं
सर्द और कोहरा भी सच कहता हैं
Neeraj Agarwal
"माफ करके"
Dr. Kishan tandon kranti
🌺प्रेम कौतुक-206🌺
🌺प्रेम कौतुक-206🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दर्द की मानसिकता
दर्द की मानसिकता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मिलते तो बहुत है हमे भी चाहने वाले
मिलते तो बहुत है हमे भी चाहने वाले
Kumar lalit
तुम जहा भी हो,तुरंत चले आओ
तुम जहा भी हो,तुरंत चले आओ
Ram Krishan Rastogi
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
वेदनामृत
वेदनामृत
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
जल से सीखें
जल से सीखें
Saraswati Bajpai
ओ जानें ज़ाना !
ओ जानें ज़ाना !
The_dk_poetry
कुर्सी
कुर्सी
Bodhisatva kastooriya
मुझसे देखी न गई तकलीफ़,
मुझसे देखी न गई तकलीफ़,
पूर्वार्थ
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मन के ब्यथा जिनगी से
मन के ब्यथा जिनगी से
Ram Babu Mandal
चंद अशआर -ग़ज़ल
चंद अशआर -ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
दिल ने गुस्ताखियाॅ॑ बहुत की हैं जाने-अंजाने
दिल ने गुस्ताखियाॅ॑ बहुत की हैं जाने-अंजाने
VINOD CHAUHAN
23/202. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/202. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
■ और एक दिन ■
■ और एक दिन ■
*Author प्रणय प्रभात*
कभी हैं भगवा कभी तिरंगा देश का मान बढाया हैं
कभी हैं भगवा कभी तिरंगा देश का मान बढाया हैं
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
ग़ज़ल
ग़ज़ल
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
मिथ्या इस  संसार में,  अर्थहीन  सम्बंध।
मिथ्या इस संसार में, अर्थहीन सम्बंध।
sushil sarna
"समय से बड़ा जादूगर दूसरा कोई नहीं,
Tarun Singh Pawar
दूर क्षितिज के पार
दूर क्षितिज के पार
लक्ष्मी सिंह
करारा नोट
करारा नोट
Punam Pande
तेरे होने का जिसमें किस्सा है
तेरे होने का जिसमें किस्सा है
shri rahi Kabeer
गाए जा, अरी बुलबुल
गाए जा, अरी बुलबुल
Shekhar Chandra Mitra
हिंदी दिवस
हिंदी दिवस
Akash Yadav
मानवता
मानवता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...