Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Sep 2016 · 1 min read

गीत- ये पहचान भी ले ले

गीत- ये पहचान भी ले ले
●●●●●●●●●●●●●

ये दिल जो तोड़ डाला है
तो अब ये जान भी ले ले
है घर जो कर दिया सूना
तो ये पहचान भी ले ले

घर-बार तुमसे था
संसार तुमसे था
ग़म था नहीँ कोई
जब प्यार तुमसे था
टूटे इक प्यार की खातिर
तूँ सूरज-चाँन भी ले ले-
ये दिल जो तोड़ डाला है
तो अब ये जान भी ले ले

अपना बनाया था
दिल मेँ बसाया था
आधे सफर मेँ ही
दामन छुड़ाया था
तुम्हेँ जो है खुशी तो सुन
मेरा सम्मान भी ले ले-
ये दिल जो तोड़ डाला है
तो अब ये जान भी ले ले

कुछ ग़र नहीँ तो क्या
है घर नहीँ तो क्या
नभ मेँ चला हूँ मैँ
जो पर नहीँ तो क्या
गर जो दिल को तसल्ली दे
मेरे अरमान भी ले ले-
ये दिल जो तोड़ डाला है
तो अब ये जान भी ले ले

– आकाश महेशपुरी

Language: Hindi
Tag: गीत
620 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
रंजिशें
रंजिशें
AJAY AMITABH SUMAN
हिन्दुस्तान जहाँ से अच्छा है
हिन्दुस्तान जहाँ से अच्छा है
Dinesh Kumar Gangwar
#शेर-
#शेर-
*प्रणय प्रभात*
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
कृष्णकांत गुर्जर
बदली-बदली सी तश्वीरें...
बदली-बदली सी तश्वीरें...
Dr Rajendra Singh kavi
पूर्णिमा की चाँदनी.....
पूर्णिमा की चाँदनी.....
Awadhesh Kumar Singh
ऑनलाइन फ्रेंडशिप
ऑनलाइन फ्रेंडशिप
Dr. Pradeep Kumar Sharma
अच्छी यादें सम्भाल कर रखा कीजिए
अच्छी यादें सम्भाल कर रखा कीजिए
नूरफातिमा खातून नूरी
.....*खुदसे जंग लढने लगा हूं*......
.....*खुदसे जंग लढने लगा हूं*......
Naushaba Suriya
*मन का समंदर*
*मन का समंदर*
Sûrëkhâ
सुधारौगे किसी को क्या, स्वयं अपने सुधर जाओ !
सुधारौगे किसी को क्या, स्वयं अपने सुधर जाओ !
DrLakshman Jha Parimal
जय मां ँँशारदे 🙏
जय मां ँँशारदे 🙏
Neelam Sharma
(मुक्तक) जऱ-जमीं धन किसी को तुम्हारा मिले।
(मुक्तक) जऱ-जमीं धन किसी को तुम्हारा मिले।
सत्य कुमार प्रेमी
गुनाहों के देवता तो हो सकते हैं
गुनाहों के देवता तो हो सकते हैं
Dheeru bhai berang
I was happy
I was happy
VINOD CHAUHAN
"वक्त-वक्त की बात"
Dr. Kishan tandon kranti
वादा
वादा
Bodhisatva kastooriya
सुख - डगर
सुख - डगर
Sandeep Pande
इक बार वही फिर बारिश हो
इक बार वही फिर बारिश हो
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
किसी भी चीज़ की आशा में गँवा मत आज को देना
किसी भी चीज़ की आशा में गँवा मत आज को देना
आर.एस. 'प्रीतम'
नसीहत वो सत्य है, जिसे
नसीहत वो सत्य है, जिसे
Ranjeet kumar patre
मुझको अपनी शरण में ले लो हे मनमोहन हे गिरधारी
मुझको अपनी शरण में ले लो हे मनमोहन हे गिरधारी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
उस रात रंगीन सितारों ने घेर लिया था मुझे,
उस रात रंगीन सितारों ने घेर लिया था मुझे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
रंग लहू का सिर्फ़ लाल होता है - ये सिर्फ किस्से हैं
रंग लहू का सिर्फ़ लाल होता है - ये सिर्फ किस्से हैं
Atul "Krishn"
पहले प्रेम में चिट्ठी पत्री होती थी
पहले प्रेम में चिट्ठी पत्री होती थी
Shweta Soni
2949.*पूर्णिका*
2949.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जागो जागो तुम,अपने अधिकारों के लिए
जागो जागो तुम,अपने अधिकारों के लिए
gurudeenverma198
देख तो ऋतुराज
देख तो ऋतुराज
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
आया पर्व पुनीत....
आया पर्व पुनीत....
डॉ.सीमा अग्रवाल
शाम के ढलते
शाम के ढलते
manjula chauhan
Loading...