Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jun 2016 · 1 min read

ग़ज़ल :– बंदिश ये रंजिश औ नाकाम से डर जाते हैं ॥

गज़ल :– बंदिश ये रंजिश औ नाकाम से डर जाते हैं ॥
बहर :–
2212–2212–212–2212

बंदिश ये रंजिश और नाकाम से डर जाते हैं ।
रिश्ते न हो जाए ये नीलाम से डर जाते हैं ।

मयखानों में बैठे तो हम जाम से डर जाते हैं ।
पी कर के हम तो उसके अंजाम से डर जाते हैं ।

लगता है डर जालिम ज़माने की बेहयाओ से ।
जब बेअदायी हो तो ईमाम से डर जाते हैं ।

मुस्कान की चाहत में गुमनाम है ये ज़िंदगी ।
क्यों आज हम अपने ही हर काम से डर जाते हैं।

घायल हुए हालात , अक्सर दगा के वार से ।
ईमान पे हम जीते अस्काम से डर जाते हैं ।

नाबूद इन्तीकाम से हो गया हर शक्स जो ।
डरते फिदा से थे जो , इंतिकाम से डर जाते हैं ।

392 Views
You may also like:
बस तेरे लिए है
bhandari lokesh
लाइलाज़
Seema 'Tu hai na'
" अद्भुत, निराला करवा चौथ "
Dr Meenu Poonia
*** चल अकेला.......!!! ***
VEDANTA PATEL
पुस्तक समीक्षा-"तारीखों के बीच" लेखक-'मनु स्वामी'
Rashmi Sanjay
लगा हूँ...
Sandeep Albela
वक़्त और हमारा वर्तमान
मनोज कर्ण
समय और रिश्ते।
Anamika Singh
मन का मोह
AMRESH KUMAR VERMA
247. "पहली पहली आहट"
MSW Sunil SainiCENA
✍️एक नन्हे बच्चे इंदर मेघवाल की मौत पर...!
'अशांत' शेखर
*मिला कहीं से एक पटाखा (बाल कविता)*
Ravi Prakash
ये दिल है जो तुम्हारा
Ram Krishan Rastogi
💐परमात्मा एव संसार-रूपेण प्रकट: भवति💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
بہت ہوشیار ہو گئے ہیں لوگ۔
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
सास और बहु
Vikas Sharma'Shivaaya'
श्रावण गीत
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बंधन बाधा हर हरो
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
" वर्ष 2023 धमाकेदार होगा बालीवुड बाक्स आफ़िस के लिए...
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
माटी
Utsav Kumar Aarya
क्षमा
Shyam Sundar Subramanian
तेरा एहसास
Dr fauzia Naseem shad
ऐसे तो ना मोहब्बत की जाती है।
Taj Mohammad
घंटा बजा
Shekhar Chandra Mitra
सिस्टर
shabina. Naaz
लड़ाकू विमान और बेटियां
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
"शिक्षक तो बोलेगा"
पंकज कुमार कर्ण
अमर शहीद चंद्रशेखर "आज़ाद" (कुण्डलिया)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
Rainbow (indradhanush)
Nupur Pathak
मनस धरातल सरक गया है।
Saraswati Bajpai
Loading...