Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Jun 2016 · 1 min read

ग़ज़ल :– तेरे सीने से लिपट कर सोने में सुकून मिलता है !!

ग़ज़ल :– तेरे सीने से लिपट कर सोने में सुकून मिलता है !!

तेरे सीने से लिपट कर सोने में सुकून मिलता है !
एक मैदान-ए-जंग मे फतेह होने से सुकून मिलता है !!

सुकून नही मिलता लाखों की दौलत पाने से भी !
एक लम्हा तेरे संग खोने पे सुकून मिलता है !!

ख्वनाहिशें ना रही अब ख्वाबों के खजाने मे !
तेरी यादो के हर पल संजोने मे सुकून मिलता है !!

तेरे हुस्न पे हुजूर-ए-हुक्म भी कुर्बान कर दूँ !
गर न कर पाया तो रोने पे सुकून मिलता है !!

बन्दिशे नही , वल्कि जिन्दगी है तेरी बन्दगी करना !
बन्दगी कि बारिश मे खुद को भिगोने पर सुकून मिलता है !!

तेरी यादो ने अब अश्को का सैलाब भर दिया !
उस सैलाब मे खुद को डुबोने पर सुकून मिलता है !!

अनुज तिवारी “इन्दवार”

1 Like · 2 Comments · 694 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मेरी देह बीमार मानस का गेह है / मुसाफ़िर बैठा
मेरी देह बीमार मानस का गेह है / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
तो शीला प्यार का मिल जाता
तो शीला प्यार का मिल जाता
Basant Bhagawan Roy
"देश भक्ति गीत"
Slok maurya "umang"
........,?
........,?
शेखर सिंह
जब से हैं तब से हम
जब से हैं तब से हम
Dr fauzia Naseem shad
इक ज़िंदगी मैंने गुजारी है
इक ज़िंदगी मैंने गुजारी है
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
जो चाहो यदि वह मिले,
जो चाहो यदि वह मिले,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मेरी हैसियत
मेरी हैसियत
आर एस आघात
गौर फरमाइए
गौर फरमाइए
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
आज बहुत याद करता हूँ ।
आज बहुत याद करता हूँ ।
Nishant prakhar
"बागबान"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरी औकात
मेरी औकात
साहित्य गौरव
फितरत
फितरत
Bodhisatva kastooriya
■ परिहास...
■ परिहास...
*प्रणय प्रभात*
मैं अपना सबकुछ खोकर,
मैं अपना सबकुछ खोकर,
लक्ष्मी सिंह
हद्द - ए - आसमाँ की न पूछा करों,
हद्द - ए - आसमाँ की न पूछा करों,
manjula chauhan
2876.*पूर्णिका*
2876.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मां
मां
Sonam Puneet Dubey
छल.....
छल.....
sushil sarna
*विनती है यह राम जी : कुछ दोहे*
*विनती है यह राम जी : कुछ दोहे*
Ravi Prakash
सत्य
सत्य
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जिसको चाहा है उम्र भर हमने..
जिसको चाहा है उम्र भर हमने..
Shweta Soni
परिश्रम
परिश्रम
Neeraj Agarwal
हम हिन्दी हिन्दू हिन्दुस्तान है
हम हिन्दी हिन्दू हिन्दुस्तान है
Pratibha Pandey
मातर मड़ई भाई दूज
मातर मड़ई भाई दूज
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
होटल में......
होटल में......
A🇨🇭maanush
वर्ल्डकप-2023 सुर्खियां
वर्ल्डकप-2023 सुर्खियां
गुमनाम 'बाबा'
जनक देश है महान
जनक देश है महान
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
World stroke day
World stroke day
Tushar Jagawat
*BOOKS*
*BOOKS*
Poonam Matia
Loading...