Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Jun 2016 · 1 min read

ग़ज़ल :– चंदा की कशिश लेकिन सितारों से समझ लेंगे !!

ग़ज़ल :– चंदा सी कशिश लेकिन सितारों से समझ लेंगे !!
गज़लकार :- अनुज तिवारी “इंदवार”

ज़रा मुश्किल तो होगी पर नजारों से समझ लेंगे !
तेरे खामोश अधरों को इशारों से समझ लेंगे !!

नज़रों की नजाकत को भले हमसे छिपाओ तुम !
तेरी उलझन ये पलकों के किनारों से समझ लेंगे !!

मुमकिन हो ना हो चाहे तेरी जुल्फों को पढ़ना अब !
गजरे की महक लेकिन बहारों से समझ लेंगे !!

कलेजे में दबे चाहे हों तेरे राज़ जितने भी !
तड़फ़ तेरी ये जख्मों की दरारों से समझ लेंगे !!

तेरे भावुक से चहेरे पर भले अम्बर सी काया हो !
चंदा सी कशिश लेकिन सितारों से समझ लेंगे !!

2 Likes · 1 Comment · 677 Views
You may also like:
आरंभ
Saraswati Bajpai
हम तमाशा थे ज़िन्दगी के लिए
Dr fauzia Naseem shad
मेरी पंचवटी
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
मुलाकात
Buddha Prakash
दिलों को तोड़ जाए वह कभी आवाज मत होना। जिसे...
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
वेदनापूर्ण लय है
Varun Singh Gautam
प्रश्न पूछता है यह बच्चा
अटल मुरादाबादी, ओज व व्यंग कवि
चराग बुझते ही.....
Vijay kumar Pandey
उपहार
विजय कुमार 'विजय'
“ हमारा फेसबूक और हमरा टाइमलाइन ”
DrLakshman Jha Parimal
चतुर्मास अध्यात्म
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बेटी तो ऐसी ही होती है
gurudeenverma198
सर्दी
Vandana Namdev
मोन
श्याम सिंह बिष्ट
यह कौन सा विधान है
Vishnu Prasad 'panchotiya'
मैथिली हाइकु कविता (Maithili Haiku Kavita)
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
दिया जलता छोड़ दिया
कवि दीपक बवेजा
कोशिश
Shyam Sundar Subramanian
अब हार भी हारेगा।
Chaurasia Kundan
चंदा की डोली उठी
Shekhar Chandra Mitra
बस रह जाएंगे ये जख्मों के निशां...
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
जगत का जंजाल-संसृति
Shivraj Anand
*भमरौवा शिव मंदिर यात्रा*
Ravi Prakash
बेताब दिल
VINOD KUMAR CHAUHAN
✍️इश्तिराक
'अशांत' शेखर
Karoge kadar khudki tab 🙏
Nupur Pathak
नामे बेवफ़ा।
Taj Mohammad
जब सिस्टम ही चोर हो गया
आकाश महेशपुरी
खींच मत अपनी ओर.....
डॉ.सीमा अग्रवाल
पत्थर दिखता है . (ग़ज़ल)
Mahendra Narayan
Loading...