Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Feb 2024 · 1 min read

खूब ठहाके लगा के बन्दे !

खूब ठहाके लगा के बंदे, ग़मो को तुम झुठलाते जाना,
खूब ठहाके लगा के बन्दे, दुःखो से तुम टकराते जाना,

खूब ठहाके लगा के बन्दे, मेहनत तुम करते जाना,
खूब ठहाके लगा के बन्दे, लक्ष्य को अपने बढ़ते जाना,

खूब ठहाके लगा के बन्दे, नित ऊंचाइयों पर चलते जाना,
खूब ठहाके लगा के बन्दे, सपनों को सच करते जाना,

खूब ठहाके लगा के बन्दे, संघर्षो से लड़ते जाना,
खूब ठहाके लगा के बन्दे, नई इबारत लिखते जाना,

खूब ठहाके लगा के बन्दे, बच्चों जैसे इठलाना,
खूब ठहाके लगा के बन्दे, साहस से चलते जाना ।

!! आकाशवाणी !!

Language: Hindi
51 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जीत
जीत
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
उसे भुलाने के सभी,
उसे भुलाने के सभी,
sushil sarna
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
Ashwini sharma
चाहे जितनी हो हिमालय की ऊँचाई
चाहे जितनी हो हिमालय की ऊँचाई
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
नववर्ष 2024 की अशेष हार्दिक शुभकामनाएँ(Happy New year 2024)
नववर्ष 2024 की अशेष हार्दिक शुभकामनाएँ(Happy New year 2024)
आर.एस. 'प्रीतम'
चाह और आह!
चाह और आह!
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
वृक्षारोपण का अर्थ केवल पौधे को रोपित करना ही नहीं बल्कि उसक
वृक्षारोपण का अर्थ केवल पौधे को रोपित करना ही नहीं बल्कि उसक
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
💐प्रेम कौतुक-169💐
💐प्रेम कौतुक-169💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"गांव की मिट्टी और पगडंडी"
Ekta chitrangini
रूपगर्विता
रूपगर्विता
Dr. Kishan tandon kranti
रामलला के विग्रह की जब, भव में प्राण प्रतिष्ठा होगी।
रामलला के विग्रह की जब, भव में प्राण प्रतिष्ठा होगी।
डॉ.सीमा अग्रवाल
पिता
पिता
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
अब तो
अब तो "वायरस" के भी
*Author प्रणय प्रभात*
*अर्थ करवाचौथ का (गीतिका)*
*अर्थ करवाचौथ का (गीतिका)*
Ravi Prakash
धन्य होता हर व्यक्ति
धन्य होता हर व्यक्ति
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
माँ
माँ
Sidhartha Mishra
कुछ तो अच्छा छोड़ कर जाओ आप
कुछ तो अच्छा छोड़ कर जाओ आप
Shyam Pandey
फुटपाथों पर लोग रहेंगे
फुटपाथों पर लोग रहेंगे
Chunnu Lal Gupta
जब आसमान पर बादल हों,
जब आसमान पर बादल हों,
Shweta Soni
कतौता
कतौता
डॉ० रोहित कौशिक
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
shabina. Naaz
तू मुझको संभालेगी क्या जिंदगी
तू मुझको संभालेगी क्या जिंदगी
कृष्णकांत गुर्जर
दुर्बल कायर का ही तो बाली आधा वल हर पाता है।
दुर्बल कायर का ही तो बाली आधा वल हर पाता है।
umesh mehra
फितरत अमिट जन एक गहना🌷🌷
फितरत अमिट जन एक गहना🌷🌷
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
गीतिका-
गीतिका-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
लोकतंत्र
लोकतंत्र
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
“परिंदे की अभिलाषा”
“परिंदे की अभिलाषा”
DrLakshman Jha Parimal
गृहस्थ-योगियों की आत्मा में बसे हैं गुरु गोरखनाथ
गृहस्थ-योगियों की आत्मा में बसे हैं गुरु गोरखनाथ
कवि रमेशराज
International Camel Year
International Camel Year
Tushar Jagawat
Loading...