Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Mar 2023 · 1 min read

खुदकुशी नहीं, इंकलाब करो

दुनिया के लिए
बातिल मत बनो
करके खुदकुशी
बिस्मिल मत बनो…
(१)
अपनों की बाबत
सोचो तो ज़रा
उनकी हसरतों के
क़ातिल मत बनो…
(२)
मुश्किलों से लड़ो
वीरों की तरह
जंग से भाग कर
(मैदान छोड़कर)
बुजदिल मत बनो…
(३)
अपने वक़्त के
तक़ाज़ों से तुम
पूरा वाक़िफ रहो
जाहिल मत बनो…
(४)
कुदरत ने रचा
तुमको इस तरह
एक मक़सद से ही
गाफिल मत बनो…
(५)
मिले किस लिए
दो हाथ और पैर
इनसे काम लो
काहिल मत बनो…
(६)
व्यवस्था में कुछ
कमी भी है तो
उसको पूरा करो
तंगदिल मत बनो…
#Geetkar
Shekhar Chandra Mitra
#इंकलाब #फनकार #lyricist #नौजवान
#suicide #rebel #Youths #बगावत
#students #fighter #lyrics #युवा
#revolution #Bollywood #क्रांति
#आत्महत्या #आत्मघात #विद्रोह #संंघर्ष

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Comment · 414 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बैठकर अब कोई आपकी कहानियाँ नहीं सुनेगा
बैठकर अब कोई आपकी कहानियाँ नहीं सुनेगा
DrLakshman Jha Parimal
जिसका हम
जिसका हम
Dr fauzia Naseem shad
मोहब्बत से जिए जाना ज़रूरी है ज़माने में
मोहब्बत से जिए जाना ज़रूरी है ज़माने में
Johnny Ahmed 'क़ैस'
मजे की बात है ....
मजे की बात है ....
Rohit yadav
जाने बचपन
जाने बचपन
Punam Pande
न ही मगरूर हूं, न ही मजबूर हूं।
न ही मगरूर हूं, न ही मजबूर हूं।
विकास शुक्ल
आसान नहीं
आसान नहीं
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
**बकरा बन पल मे मै हलाल हो गया**
**बकरा बन पल मे मै हलाल हो गया**
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
#आज_का_शोध😊
#आज_का_शोध😊
*Author प्रणय प्रभात*
मुसाफिर
मुसाफिर
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
3327.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3327.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
Paras Nath Jha
मान बुजुर्गों की भी बातें
मान बुजुर्गों की भी बातें
Chunnu Lal Gupta
रफ़्ता रफ़्ता (एक नई ग़ज़ल)
रफ़्ता रफ़्ता (एक नई ग़ज़ल)
Vinit kumar
*दुखड़ा कभी संसार में, अपना न रोना चाहिए【हिंदी गजल/गीतिका】*
*दुखड़ा कभी संसार में, अपना न रोना चाहिए【हिंदी गजल/गीतिका】*
Ravi Prakash
गाय
गाय
Dr. Pradeep Kumar Sharma
शेरे-पंजाब
शेरे-पंजाब
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुस्कान
मुस्कान
Surya Barman
Perfection, a word which cannot be described within the boun
Perfection, a word which cannot be described within the boun
Sukoon
क्या हो, अगर कोई साथी न हो?
क्या हो, अगर कोई साथी न हो?
Vansh Agarwal
तस्वीर तुम्हारी देखी तो
तस्वीर तुम्हारी देखी तो
VINOD CHAUHAN
मुक्तक
मुक्तक
sushil sarna
रात बदरिया...
रात बदरिया...
डॉ.सीमा अग्रवाल
"अहङ्कारी स एव भवति यः सङ्घर्षं विना हि सर्वं लभते।
Mukul Koushik
भजन - माॅं नर्मदा का
भजन - माॅं नर्मदा का
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
नई शुरुआत
नई शुरुआत
Neeraj Agarwal
सुरभित - मुखरित पर्यावरण
सुरभित - मुखरित पर्यावरण
संजय कुमार संजू
विषय :- काव्य के शब्द चुनाव पर |
विषय :- काव्य के शब्द चुनाव पर |
Sûrëkhâ
प्रेम.....
प्रेम.....
हिमांशु Kulshrestha
पूरा ना कर पाओ कोई ऐसा दावा मत करना,
पूरा ना कर पाओ कोई ऐसा दावा मत करना,
Shweta Soni
Loading...