Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Dec 2023 · 1 min read

क्रिसमस दिन भावे 🥀🙏

क्रिसमस भावे
🍀☘️🥀💐🙏
एक बरस में बस एक दिनमा
क्रिसमस बडा दिन जाना जाए
पावन पवित्र दिसंबर महीनमा

तारीख पचीस पवित्र शुभदिन
ईशा मसीह अवतरण दिनमा
निज माता मैरी का मिलन भाए

गिरजाघर में भारी मेला लागे
रंग विरंगे भू पर सज्ज धज्ज
सेन्टा मेरी क्राइस्ट भू पर आए

मनभावन आकर्षक तोहफ़ा
जग में सद्भाव प्यार बरसाए
स्वर्गीयआभा गिरजाघर छाए

भीड़ उमड़ दर्शन को आतुर
रूहानी ऊर्जा तरोताजे करते
माँ बेटे का स्नेह प्यार दर्शाते

परमेश्वर रूह पैगम्बर कहलाते
माता मरियम के पावन चरणों
शीश झुका संदेश छोड़ जाते

माँ से बड़ा ना कोई जग दूजा
चरणों में शीश नर नारी झुकाते
साल का पावन पवित्र रुहानी

दिनमा जन मन को सुंदर लागे
नयी उत्साह उमंग ऊर्जा पाए
साल में बस पचीस दिसंबर का

बस एक दिनमा सबको भावे
याद कर इस पल को साल में
यीशु के स्वच्छ स्वप्न संदेश से

प्रेम प्यार श्रम कर जीवन यापन
विकास परिवर्तन गले लगाना
लड़ाई झगड़ा ईष्या मत करना

क्षमा सुलह सहजता अपनाना
समभाव सर्मपन से जग जीना
अगले बरष फ़िर तोहफ़ा लेना ।
🌹🍀🙏🙏☘️🌷🍀🙏🌹🌷
तारकेश्‍वर प्रसाद तरूण

Language: Hindi
99 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
View all
You may also like:
फूलों से हँसना सीखें🌹
फूलों से हँसना सीखें🌹
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
दूध बन जाता है पानी
दूध बन जाता है पानी
कवि दीपक बवेजा
लड़की
लड़की
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तन को कष्ट न दीजिए, दाम्पत्य अनमोल।
तन को कष्ट न दीजिए, दाम्पत्य अनमोल।
जगदीश शर्मा सहज
यही तो मजा है
यही तो मजा है
Otteri Selvakumar
कभी सरल तो कभी सख़्त होते हैं ।
कभी सरल तो कभी सख़्त होते हैं ।
Neelam Sharma
दिल है के खो गया है उदासियों के मौसम में.....कहीं
दिल है के खो गया है उदासियों के मौसम में.....कहीं
shabina. Naaz
बैठा हूँ उस राह पर जो मेरी मंजिल नहीं
बैठा हूँ उस राह पर जो मेरी मंजिल नहीं
Pushpraj Anant
पुतलों का देश
पुतलों का देश
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
"ऐसा वक्त आएगा"
Dr. Kishan tandon kranti
✍️ D. K 27 june 2023
✍️ D. K 27 june 2023
The_dk_poetry
■ लघुकथा....
■ लघुकथा....
*Author प्रणय प्रभात*
लुगाई पाकिस्तानी रे
लुगाई पाकिस्तानी रे
gurudeenverma198
काश
काश
लक्ष्मी सिंह
Hum tumhari giraft se khud ko azad kaise kar le,
Hum tumhari giraft se khud ko azad kaise kar le,
Sakshi Tripathi
बदला सा व्यवहार
बदला सा व्यवहार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
सन् 19, 20, 21
सन् 19, 20, 21
Sandeep Pande
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आशियाना तुम्हारा
आशियाना तुम्हारा
Srishty Bansal
तबकी  बात  और है,
तबकी बात और है,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
लगा ले कोई भी रंग हमसें छुपने को
लगा ले कोई भी रंग हमसें छुपने को
Sonu sugandh
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
नींबू की चाह
नींबू की चाह
Ram Krishan Rastogi
मुझे किराए का ही समझो,
मुझे किराए का ही समझो,
Sanjay ' शून्य'
चलो दो हाथ एक कर ले
चलो दो हाथ एक कर ले
Sûrëkhâ Rãthí
संकट..
संकट..
Sushmita Singh
सफर ऐसा की मंजिल का पता नहीं
सफर ऐसा की मंजिल का पता नहीं
Anil chobisa
गांव की याद
गांव की याद
Punam Pande
💐अज्ञात के प्रति-18💐
💐अज्ञात के प्रति-18💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नाम:- प्रतिभा पाण्डेय
नाम:- प्रतिभा पाण्डेय "प्रति"
Pratibha Pandey
Loading...