Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Mar 2023 · 1 min read

कोरे कागज़ पर लिखें अक्षर,

कोरे कागज़ पर लिखें अक्षर,
शब्दों में बदल कर
कविता बन जाते है,
दुख के आंसू शब्दों में,
कागज़ गलकर,
कलम चलकर कविता बन जाते है,
बरसात की बूंदों का गिरना,
हाथों की लकीरों का उभरना,
एक आदमी के जीवन का,
पल-पल चल कर कविता बन जाते है,
भूख से तड़पते,
खेतों के हल चलकर,
दिल के अरमान टूटकर,
फिर संभल कर कविता बन जाते है।।अनिल”अबीर”

2 Likes · 518 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मसरूफियत बढ़ गई है
मसरूफियत बढ़ गई है
Harminder Kaur
हम दुनिया के सभी मच्छरों को तो नहीं मार सकते है तो क्यों न ह
हम दुनिया के सभी मच्छरों को तो नहीं मार सकते है तो क्यों न ह
Rj Anand Prajapati
मधुर व्यवहार
मधुर व्यवहार
Paras Nath Jha
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
Vijay Nagar
महामहिम राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू जी
महामहिम राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू जी
Seema gupta,Alwar
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
24/228. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/228. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
चरणों में सौ-सौ अभिनंदन ,शिक्षक तुम्हें प्रणाम है (गीत)
चरणों में सौ-सौ अभिनंदन ,शिक्षक तुम्हें प्रणाम है (गीत)
Ravi Prakash
शुभ को छोड़ लाभ पर
शुभ को छोड़ लाभ पर
Dr. Kishan tandon kranti
💫समय की वेदना😥
💫समय की वेदना😥
SPK Sachin Lodhi
सुप्रभात
सुप्रभात
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
दो साँसों के तीर पर,
दो साँसों के तीर पर,
sushil sarna
अब वो मुलाकात कहाँ
अब वो मुलाकात कहाँ
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
देखा है।
देखा है।
Shriyansh Gupta
Fantasies are common in this mystical world,
Fantasies are common in this mystical world,
Sukoon
कुछ लोग ऐसे भी मिले जिंदगी में
कुछ लोग ऐसे भी मिले जिंदगी में
शेखर सिंह
तहरीर लिख दूँ।
तहरीर लिख दूँ।
Neelam Sharma
संस्कृतियों का समागम
संस्कृतियों का समागम
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
समरथ को नही दोष गोसाई
समरथ को नही दोष गोसाई
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ऐ सुनो
ऐ सुनो
Anand Kumar
हिन्दी दोहा-विश्वास
हिन्दी दोहा-विश्वास
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ముందుకు సాగిపో..
ముందుకు సాగిపో..
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
एक तरफ तो तुम
एक तरफ तो तुम
Dr Manju Saini
सत्य की खोज
सत्य की खोज
dks.lhp
कर्म ही हमारे जीवन...... आईना
कर्म ही हमारे जीवन...... आईना
Neeraj Agarwal
🌷🌷  *
🌷🌷 *"स्कंदमाता"*🌷🌷
Shashi kala vyas
दिल तुम्हारा जो कहे, वैसा करो
दिल तुम्हारा जो कहे, वैसा करो
अरशद रसूल बदायूंनी
हीरा उन्हीं को  समझा  गया
हीरा उन्हीं को समझा गया
गुमनाम 'बाबा'
कान्हा भक्ति गीत
कान्हा भक्ति गीत
Kanchan Khanna
किसी वजह से जब तुम दोस्ती निभा न पाओ
किसी वजह से जब तुम दोस्ती निभा न पाओ
ruby kumari
Loading...