Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Feb 2024 · 1 min read

कोई आपसे तब तक ईर्ष्या नहीं कर सकता है जब तक वो आपसे परिचित

कोई आपसे तब तक ईर्ष्या नहीं कर सकता है जब तक वो आपसे परिचित न हो क्योंकि अपरिचित से कोई भी ईर्ष्या नहीं करता है यदि वह ईर्ष्या करने लगा है तो कहीं न कहीं वह उससे परिचित हो चुका है।
RJ Anand Prajapati

35 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#काकोरी_दिवस_आज
#काकोरी_दिवस_आज
*Author प्रणय प्रभात*
चंद्रयान-3
चंद्रयान-3
Mukesh Kumar Sonkar
Help Each Other
Help Each Other
Dhriti Mishra
डार्क वेब और इसके संभावित खतरे
डार्क वेब और इसके संभावित खतरे
Shyam Sundar Subramanian
जब उम्र कुछ कर गुजरने की होती है
जब उम्र कुछ कर गुजरने की होती है
Harminder Kaur
बुलंदियों पर पहुंचाएगा इकदिन मेरा हुनर मुझे,
बुलंदियों पर पहुंचाएगा इकदिन मेरा हुनर मुझे,
प्रदीप कुमार गुप्ता
The life is too small to love you,
The life is too small to love you,
Sakshi Tripathi
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
Swati
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बहुजन विमर्श
बहुजन विमर्श
Shekhar Chandra Mitra
मरने के बाद भी ठगे जाते हैं साफ दामन वाले
मरने के बाद भी ठगे जाते हैं साफ दामन वाले
Sandeep Kumar
नया से भी नया
नया से भी नया
Ramswaroop Dinkar
رام کے نام کی سب کو یہ دہائی دینگے
رام کے نام کی سب کو یہ دہائی دینگے
अरशद रसूल बदायूंनी
आतंक, आत्मा और बलिदान
आतंक, आत्मा और बलिदान
Suryakant Dwivedi
करुणामयि हृदय तुम्हारा।
करुणामयि हृदय तुम्हारा।
Buddha Prakash
राष्ट्रीय किसान दिवस
राष्ट्रीय किसान दिवस
Akash Yadav
अंहकार
अंहकार
Neeraj Agarwal
*पेंशन : आठ दोहे*
*पेंशन : आठ दोहे*
Ravi Prakash
लिखने – पढ़ने का उद्देश्य/ musafir baitha
लिखने – पढ़ने का उद्देश्य/ musafir baitha
Dr MusafiR BaithA
गम खास होते हैं
गम खास होते हैं
ruby kumari
कौन करता है आजकल जज्बाती इश्क,
कौन करता है आजकल जज्बाती इश्क,
डी. के. निवातिया
सफलता
सफलता
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
दिल में रह जाते हैं
दिल में रह जाते हैं
Dr fauzia Naseem shad
"दिल का हाल सुने दिल वाला"
Pushpraj Anant
दूसरे दर्जे का आदमी
दूसरे दर्जे का आदमी
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
देव विनायक वंदना
देव विनायक वंदना
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"दलित"
Dr. Kishan tandon kranti
उफ़ ये अदा
उफ़ ये अदा
Surinder blackpen
2482.पूर्णिका
2482.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
भगवत गीता जयंती
भगवत गीता जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...