Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Sep 2016 · 1 min read

कृष्ण की मुरली

मधुबन बजत मुरलि मधुर,
सुनि सुनि सुधि बिसारी है।
बजाय पुनि पुनि मधुर धुन,
स्व वश करत मुरारी है।
गृह तजि तजि धाय मोहन,
मुरलिधर हाय किते लुके।
मुरलि अधर रखत सततहि,
मुरलि अति विष धारी है।

Language: Hindi
1 Comment · 516 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from avadhoot rathore
View all
You may also like:
💃युवती💃
💃युवती💃
सुरेश अजगल्ले"इंद्र"
आई होली झूम के
आई होली झूम के
जगदीश लववंशी
एक बात तो,पक्की होती है मेरी,
एक बात तो,पक्की होती है मेरी,
Dr. Man Mohan Krishna
खालीपन
खालीपन
करन ''केसरा''
विवाद और मतभेद
विवाद और मतभेद
Shyam Sundar Subramanian
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
ruby kumari
14. आवारा
14. आवारा
Rajeev Dutta
2625.पूर्णिका
2625.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
प्यार का उपहार तुमको मिल गया है।
प्यार का उपहार तुमको मिल गया है।
surenderpal vaidya
#दोहा-
#दोहा-
*Author प्रणय प्रभात*
नरसिंह अवतार
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
गुमूस्सेर्वी
गुमूस्सेर्वी "Gümüşservi "- One of the most beautiful words of the world.
कुमार
धर्म और विडम्बना
धर्म और विडम्बना
Mahender Singh Manu
नारी निन्दा की पात्र नहीं, वह तो नर की निर्मात्री है
नारी निन्दा की पात्र नहीं, वह तो नर की निर्मात्री है
महेश चन्द्र त्रिपाठी
कविता: घर घर तिरंगा हो।
कविता: घर घर तिरंगा हो।
Rajesh Kumar Arjun
दिन आज आखिरी है, खत्म होते साल में
दिन आज आखिरी है, खत्म होते साल में
gurudeenverma198
मेरा मन उड़ चला पंख लगा के बादलों के
मेरा मन उड़ चला पंख लगा के बादलों के
shabina. Naaz
धर्मांध भीड़ के ख़तरे
धर्मांध भीड़ के ख़तरे
Shekhar Chandra Mitra
2- साँप जो आस्तीं में पलते हैं
2- साँप जो आस्तीं में पलते हैं
Ajay Kumar Vimal
भ्रम अच्छा है
भ्रम अच्छा है
Vandna Thakur
आँख से अपनी अगर शर्म-ओ-हया पूछेगा
आँख से अपनी अगर शर्म-ओ-हया पूछेगा
Fuzail Sardhanvi
"चापलूसी"
Dr. Kishan tandon kranti
मैं यूं ही नहीं इतराता हूं।
मैं यूं ही नहीं इतराता हूं।
नेताम आर सी
“ आलोचना ,समालोचना और विश्लेषण”
“ आलोचना ,समालोचना और विश्लेषण”
DrLakshman Jha Parimal
बम से दुश्मन मार गिराए( बाल कविता )
बम से दुश्मन मार गिराए( बाल कविता )
Ravi Prakash
*लफ्ज*
*लफ्ज*
Kumar Vikrant
इबादत आपकी
इबादत आपकी
Dr fauzia Naseem shad
श्री कृष्ण अवतार
श्री कृष्ण अवतार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
ईश्वर से साक्षात्कार कराता है संगीत
ईश्वर से साक्षात्कार कराता है संगीत
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
ज्ञान क्या है
ज्ञान क्या है
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...