Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 1, 2022 · 1 min read

कुछ बारिशें बंजर लेकर आती हैं।

कुछ बारिशें बंजर लेकर आती हैं, जब आंखें आंसुओं से लिपट जाती हैं।
भीगते तो हैं सतह मगर, चोटें आत्मा तक पहुँच जाती हैं।
कहते हैं अंधकार मिटाने को वो धूप जगमगाती है,
पर वो धूप हीं तो है, जो परछाईयों को और गहरा कर जाती है।
कभी जो रास्ते तलाशते थे घर की तरफ आने को, अब वही राहें घर से दूर ले जाती हैं।
जिन पगडंडियों पर चलना सीखा, वो पगडंडियां भी अब नजरें चुराती हैं।
वक़्त भी वो वक़्त लिए आ जाती है, कि गहरे रिश्तों को रंगहीन कर जाती है।
इक डोर से बंधे नातो में, अब बस गाठें हीं गाठें नजर आती हैं।
कुछ बातें अहसासों से टकराती हैं, मन में हलचल मचा जाती हैं।
कोशिशें थी भूलने की नई बातों को, पर अब पुरानी बांते रोज हीं सताती हैं।
आवाजें खामोशियों से निकलकर, खामोशी में हीं समा जाती हैं।
और जख्म ऐसे दे जाती है, जो सदियों तक कानों में गुनगुनाती हैं।
जन्म के साथ हीं तो डोर, मृत्यु की ओर खींचनी शुरू हो जाती हैं।
पर जब मृत्यु नाराजगी दिखाती है, तब जीवन का अभिशाप दे कर जाती है।

2 Likes · 2 Comments · 136 Views
You may also like:
यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते
Prakash Chandra
पिता
Meenakshi Nagar
"राधे राधे"
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
ज़िंदगी याद का
Dr fauzia Naseem shad
ज़िन्दगी
akmotivation6418
सरकारी निजीकरण।
Taj Mohammad
पथ जीवन
Vishnu Prasad 'panchotiya'
मुखर तुम्हारा मौन (गीत)
Ravi Prakash
💐प्रेम की राह पर-57💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
स्मृति चिन्ह
Shyam Sundar Subramanian
राम नाम ही परम सत्य है।
Anamika Singh
मतलब के रिश्ते
Anamika Singh
saliqe se hawaon mein jo khushbu ghol sakte hain
Muhammad Asif Ali
जो दिल ओ ज़ेहन में
Dr fauzia Naseem shad
आज के रिश्ते!
Anamika Singh
✍️पवित्र गीता✍️
'अशांत' शेखर
आजमाते रहिए
shabina. Naaz
बद्दुआ।
Taj Mohammad
✍️एक ख़ता✍️
'अशांत' शेखर
यह चिड़ियाँ अब क्या करेगी
Anamika Singh
आज नज़रे।
Taj Mohammad
*डॉक्टर भूपति शर्मा जोशी की कुंडलियाँ : एक अध्ययन*
Ravi Prakash
इस दर्द को यदि भूला दिया, तो शब्द कहाँ से...
Manisha Manjari
चिड़ियाँ
Anamika Singh
सुन री पवन।
Taj Mohammad
हर गम को ही सह लूंगा।
Taj Mohammad
✍️नशा और शौक✍️
'अशांत' शेखर
✍️कभी जुबाँ आ जाये तो...!✍️
'अशांत' शेखर
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
सुंदर बाग़
DESH RAJ
Loading...