Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Nov 2022 · 1 min read

कुछ बातें जो अनकही हैं…

कुछ बातें जो अनकही हैं…
अनकही ही रह जाए तो अच्छा है
कुछ यादें जो अनछुए हैं.…
अनछुए ही रह जाए तो अच्छा है
जो बात दिल ने दिल से..…
आंखों की जुबा की थी.…
वो लफ्ज ना बन पाए तो अच्छा है
अधुरे सपनो के वो कोमल कपोले.……
छूने से टूट जाएंगे
वो अनछुए हैं.….
अनछुए ही रह जाए तो अच्छा है.
कुछ बातें जो अनकही हैं….
अनकही ही रह तो अच्छा है

7 Likes · 329 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"रंग भले ही स्याह हो" मेरी पंक्तियों का - अपने रंग तो तुम घोलते हो जब पढ़ते हो
Atul "Krishn"
Work hard and be determined
Work hard and be determined
Sakshi Tripathi
नहीं विश्वास करते लोग सच्चाई भुलाते हैं
नहीं विश्वास करते लोग सच्चाई भुलाते हैं
आर.एस. 'प्रीतम'
हर घर में नहीं आती लक्ष्मी
हर घर में नहीं आती लक्ष्मी
कवि रमेशराज
तजो आलस तजो निद्रा, रखो मन भावमय चेतन।
तजो आलस तजो निद्रा, रखो मन भावमय चेतन।
डॉ.सीमा अग्रवाल
गौभक्त और संकट से गुजरते गाय–बैल / MUSAFIR BAITHA
गौभक्त और संकट से गुजरते गाय–बैल / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
विश्व जल दिवस
विश्व जल दिवस
Dr. Kishan tandon kranti
अजनबी बनकर आये थे हम तेरे इस शहर मे,
अजनबी बनकर आये थे हम तेरे इस शहर मे,
डी. के. निवातिया
भगवान सर्वव्यापी हैं ।
भगवान सर्वव्यापी हैं ।
ओनिका सेतिया 'अनु '
जब आसमान पर बादल हों,
जब आसमान पर बादल हों,
Shweta Soni
जय माता दी ।
जय माता दी ।
Anil Mishra Prahari
ना चाहते हुए भी रोज,वहाँ जाना पड़ता है,
ना चाहते हुए भी रोज,वहाँ जाना पड़ता है,
Suraj kushwaha
अनुभूत सत्य .....
अनुभूत सत्य .....
विमला महरिया मौज
मेरी पहचान!
मेरी पहचान!
कविता झा ‘गीत’
हम भी जिंदगी भर उम्मीदों के साए में चलें,
हम भी जिंदगी भर उम्मीदों के साए में चलें,
manjula chauhan
अमीर-ग़रीब वर्ग दो,
अमीर-ग़रीब वर्ग दो,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
■ ख़ास दिन, ख़ास दोहा
■ ख़ास दिन, ख़ास दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
రామయ్య రామయ్య
రామయ్య రామయ్య
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
माँ भारती की पुकार
माँ भारती की पुकार
लक्ष्मी सिंह
रंग रहे उमंग रहे और आपका संग रहे
रंग रहे उमंग रहे और आपका संग रहे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
संजीव शुक्ल 'सचिन'
मैं
मैं "लूनी" नही जो "रवि" का ताप न सह पाऊं
ruby kumari
इंसान
इंसान
Bodhisatva kastooriya
*तोता (बाल कविता)*
*तोता (बाल कविता)*
Ravi Prakash
चंद्रयान-3
चंद्रयान-3
Mukesh Kumar Sonkar
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
Teena Godhia
खिलेंगे फूल राहों में
खिलेंगे फूल राहों में
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मोहब्बत
मोहब्बत
अखिलेश 'अखिल'
आशा की किरण
आशा की किरण
Nanki Patre
*आस्था*
*आस्था*
Dushyant Kumar
Loading...