Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Feb 2024 · 1 min read

कुछ अजीब सा चल रहा है ये वक़्त का सफ़र,

कुछ अजीब सा चल रहा है ये वक़्त का सफ़र,
एक गहरी सी ख़ामोशी है खुद के अंदर।।

103 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
खेल जगत का सूर्य
खेल जगत का सूर्य
आकाश महेशपुरी
विश्व कप-2023 का सबसे लंबा छक्का किसने मारा?
विश्व कप-2023 का सबसे लंबा छक्का किसने मारा?
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
देता है अच्छा सबक़,
देता है अच्छा सबक़,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Are you strong enough to cry?
Are you strong enough to cry?
पूर्वार्थ
फूल,पत्ते, तृण, ताल, सबकुछ निखरा है
फूल,पत्ते, तृण, ताल, सबकुछ निखरा है
Anil Mishra Prahari
किसी ने कहा- आरे वहां क्या बात है! लड़की हो तो ऐसी, दिल जीत
किसी ने कहा- आरे वहां क्या बात है! लड़की हो तो ऐसी, दिल जीत
जय लगन कुमार हैप्पी
जिंदगी को रोशन करने के लिए
जिंदगी को रोशन करने के लिए
Ragini Kumari
💐प्रेम कौतुक-544💐
💐प्रेम कौतुक-544💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मन को समझाने
मन को समझाने
sushil sarna
अनुभूति
अनुभूति
Shweta Soni
*****खुद का परिचय *****
*****खुद का परिचय *****
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
"सफलता की चाह"
Dr. Kishan tandon kranti
*आत्मविश्वास*
*आत्मविश्वास*
Ritu Asooja
श्रृंगारिक दोहे
श्रृंगारिक दोहे
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
2857.*पूर्णिका*
2857.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बिछ गई चौसर चौबीस की,सज गई मैदान-ए-जंग
बिछ गई चौसर चौबीस की,सज गई मैदान-ए-जंग
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Whenever My Heart finds Solitude
Whenever My Heart finds Solitude
कुमार
#dr Arun Kumar shastri
#dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ତୁମ ର ହସ
ତୁମ ର ହସ
Otteri Selvakumar
भरी महफिल
भरी महफिल
Vandna thakur
यदि आप बार बार शिकायत करने की जगह
यदि आप बार बार शिकायत करने की जगह
Paras Nath Jha
अलाव की गर्माहट
अलाव की गर्माहट
Arvina
कोरा रंग
कोरा रंग
Manisha Manjari
शिक्षक दिवस
शिक्षक दिवस
Rajni kapoor
■ आज का दोहा
■ आज का दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
हिन्दी दोहा बिषय -हिंदी
हिन्दी दोहा बिषय -हिंदी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
" चले आना "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
यह कैसा है धर्म युद्ध है केशव
यह कैसा है धर्म युद्ध है केशव
VINOD CHAUHAN
गरमी का वरदान है ,फल तरबूज महान (कुंडलिया)
गरमी का वरदान है ,फल तरबूज महान (कुंडलिया)
Ravi Prakash
नेता जब से बोलने लगे सच
नेता जब से बोलने लगे सच
Dhirendra Singh
Loading...