Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Mar 2024 · 1 min read

“किसी की याद मे आँखे नम होना,

“किसी की याद मे आँखे नम होना,
खाना – पीना कम होना,
मै नही हम होना,
मिलने के लिए अक्सर तङपना लेकिन नही मिल पाने का गम होना,
असल मे दूरियाँ बहुत है,
लेकिन पास होने का भ्रम होना|
यह एक निश्चल प्रेम को दर्शाता है|
:राकेश देवङे बिरसावादी

63 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जो लोग धन को ही जीवन का उद्देश्य समझ बैठे है उनके जीवन का भो
जो लोग धन को ही जीवन का उद्देश्य समझ बैठे है उनके जीवन का भो
Rj Anand Prajapati
मेरे मित्र के प्रेम अनुभव के लिए कुछ लिखा है  जब उसकी प्रेमि
मेरे मित्र के प्रेम अनुभव के लिए कुछ लिखा है जब उसकी प्रेमि
पूर्वार्थ
मां
मां
Sanjay ' शून्य'
#दोहा-
#दोहा-
*Author प्रणय प्रभात*
बुंदेली दोहा- पलका (पलंग)
बुंदेली दोहा- पलका (पलंग)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सत्य की खोज........एक संन्यासी
सत्य की खोज........एक संन्यासी
Neeraj Agarwal
ज़िद
ज़िद
Dr. Seema Varma
"मंजर"
Dr. Kishan tandon kranti
करते हो क्यों प्यार अब हमसे तुम
करते हो क्यों प्यार अब हमसे तुम
gurudeenverma198
" रहना तुम्हारे सँग "
DrLakshman Jha Parimal
Mai deewana ho hi gya
Mai deewana ho hi gya
Swami Ganganiya
***
***
sushil sarna
चाबी घर की हो या दिल की
चाबी घर की हो या दिल की
शेखर सिंह
Gairo ko sawarne me khuch aise
Gairo ko sawarne me khuch aise
Sakshi Tripathi
गीता मर्मज्ञ श्री दीनानाथ दिनेश जी
गीता मर्मज्ञ श्री दीनानाथ दिनेश जी
Ravi Prakash
आईना हो सामने फिर चेहरा छुपाऊं कैसे,
आईना हो सामने फिर चेहरा छुपाऊं कैसे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
माँ बाप खजाना जीवन का
माँ बाप खजाना जीवन का
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
हे प्रभु मेरी विनती सुन लो , प्रभु दर्शन की आस जगा दो
हे प्रभु मेरी विनती सुन लो , प्रभु दर्शन की आस जगा दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Pain of separation
Pain of separation
Bidyadhar Mantry
मेरा भारत जिंदाबाद
मेरा भारत जिंदाबाद
Satish Srijan
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
आज बेरोजगारों की पहली सफ़ में बैठे हैं
आज बेरोजगारों की पहली सफ़ में बैठे हैं
गुमनाम 'बाबा'
मानसिकता का प्रभाव
मानसिकता का प्रभाव
Anil chobisa
कि लड़का अब मैं वो नहीं
कि लड़का अब मैं वो नहीं
The_dk_poetry
एक सलाह, नेक सलाह
एक सलाह, नेक सलाह
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
गले की फांस
गले की फांस
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तुम पर क्या लिखूँ ...
तुम पर क्या लिखूँ ...
Harminder Kaur
किस बात का गुमान है
किस बात का गुमान है
भरत कुमार सोलंकी
"The Power of Orange"
Manisha Manjari
पितरों के सदसंकल्पों की पूर्ति ही श्राद्ध
पितरों के सदसंकल्पों की पूर्ति ही श्राद्ध
कवि रमेशराज
Loading...