Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Nov 2023 · 1 min read

कविता : याद

कविता: याद
********************
उसकी आखिरी बात याद है,
उसकी आखिरी फरियाद याद है।
करती है प्यार मुझसे छुपकर,
उसकी आखिरी मुलाकात याद है।
उसकी आखिरी बात याद है……….

हूं मैं सवाल गर तो वो मेरा जवाब है,
कहते हैं शायर मुझे वो मेरी किताब है।
झांका मैंने उसके दिल के कोनों में,
पाया मेरी खुशी ही उसका ख्याब है।
पहली नजर में पहचाना था उसने,
हंसता हुआ वो आदाब याद है।
उसकी आखिरी बात याद है………..

उसकी भीगी पलकें कुछ कहती,
मेरी जुदाई में गंगा- जमना बहती।
गुस्सा करती मौहब्बत के नाम से,
फिर भी बिछड़ने से बहुत डरती।
कुछ ना कह के बहुत कुछ कह गयी
उसकी मीठी वो आवाज याद है।
उसकी आखिरी बात याद है…………

शान्त सी बैठी थी वो पूरे रास्ते,
कभी-कभी मुस्कराती मेरे वास्ते।
पूछा जब उससे उदासी का कारण,
बोली- आई हूं मै बिना नाश्ते।
मौका मिला और कुछ खाया हमने,
आज भी उस भोजन का स्वाद याद है।
उसकी आखिरी बात याद है………….

******📚******

स्वरचित कविता 📝
✍️रचनाकार:
राजेश कुमार अर्जुन

4 Likes · 1 Comment · 115 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*मगर चलने में अपने पैर से ही चाल आती है (मुक्तक)*
*मगर चलने में अपने पैर से ही चाल आती है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
बच्चे का संदेश
बच्चे का संदेश
Anjali Choubey
👰🏾‍♀कजरेली👰🏾‍♀
👰🏾‍♀कजरेली👰🏾‍♀
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
दिल ने दिल को दे दिया, उल्फ़त का पैग़ाम ।
दिल ने दिल को दे दिया, उल्फ़त का पैग़ाम ।
sushil sarna
दोहा- दिशा
दोहा- दिशा
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जो हुआ वो गुज़रा कल था
जो हुआ वो गुज़रा कल था
Atul "Krishn"
जीवन के रंगो संग घुल मिल जाए,
जीवन के रंगो संग घुल मिल जाए,
Shashi kala vyas
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
चैन से जिंदगी
चैन से जिंदगी
Basant Bhagawan Roy
मतदान से, हर संकट जायेगा;
मतदान से, हर संकट जायेगा;
पंकज कुमार कर्ण
जवाबदारी / MUSAFIR BAITHA
जवाबदारी / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
वाणी वह अस्त्र है जो आपको जीवन में उन्नति देने व अवनति देने
वाणी वह अस्त्र है जो आपको जीवन में उन्नति देने व अवनति देने
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
आइन-ए-अल्फाज
आइन-ए-अल्फाज
AJAY AMITABH SUMAN
हाँ, मैं कवि हूँ
हाँ, मैं कवि हूँ
gurudeenverma198
स्वाधीनता संग्राम
स्वाधीनता संग्राम
Prakash Chandra
बहुत कीमती है दिल का सुकून
बहुत कीमती है दिल का सुकून
shabina. Naaz
नील पदम् के बाल गीत Neel Padam ke Bal Geet #neelpadam
नील पदम् के बाल गीत Neel Padam ke Bal Geet #neelpadam
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
अपने क़द से
अपने क़द से
Dr fauzia Naseem shad
*माँ जननी सदा सत्कार करूँ*
*माँ जननी सदा सत्कार करूँ*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
महबूबा से
महबूबा से
Shekhar Chandra Mitra
देह धरे का दण्ड यह,
देह धरे का दण्ड यह,
महेश चन्द्र त्रिपाठी
(4) ऐ मयूरी ! नाच दे अब !
(4) ऐ मयूरी ! नाच दे अब !
Kishore Nigam
लाचार जन की हाय
लाचार जन की हाय
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
तू तो होगी नहीं....!!!
तू तो होगी नहीं....!!!
Kanchan Khanna
प्यार विश्वाश है इसमें कोई वादा नहीं होता!
प्यार विश्वाश है इसमें कोई वादा नहीं होता!
Diwakar Mahto
चंद्रयान 3
चंद्रयान 3
Dr.Priya Soni Khare
■ तजुर्बे की बात।
■ तजुर्बे की बात।
*Author प्रणय प्रभात*
परोपकार का भाव
परोपकार का भाव
Buddha Prakash
हर सांझ तुम्हारे आने की आहट सुना करता था
हर सांझ तुम्हारे आने की आहट सुना करता था
Er. Sanjay Shrivastava
"प्लेटो ने कहा था"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...