Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Oct 2023 · 1 min read

करवाचौथ

करवाचौथ व्रत और पर्व हम मानते हैं।
पति की लम्बी उम्र की प्रार्थना करते हैं।
बेटी बहन मां नारी ही रिश्ते निभाती हैं।
सदा सुहागिन का वरदान हम चाहते हैं।
हम सभी मानव जीवन का सच कहते हैं।
पत्नी पति के साथ धर्म को निभाती हैं।
आधुनिक सशमय में भी करवाचौथ मनाते हैं।
अपने अपने नियम हम सभी बनाते हैं।
सच और व्रत सावित्री कथा हम कहते हैं।
निर्जल उपवास हम सभी नारी करते हैं।
नारी शक्ति और धर्म का नियम निभाती हैं।
आओ हम करवाचौथ का धर्म निभाते हैं।

नीरज अग्रवाल चंदौसी उ.प्र

Language: Hindi
156 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बेटी नहीं उपहार हैं खुशियों का संसार हैं
बेटी नहीं उपहार हैं खुशियों का संसार हैं
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
देखी है हमने हस्तियां कई
देखी है हमने हस्तियां कई
KAJAL NAGAR
शासन की ट्रेन पलटी
शासन की ट्रेन पलटी
*Author प्रणय प्रभात*
बचपन याद किसे ना आती ?
बचपन याद किसे ना आती ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
*Maturation*
*Maturation*
Poonam Matia
ख़्याल रखें
ख़्याल रखें
Dr fauzia Naseem shad
बेटियां
बेटियां
Madhavi Srivastava
गर्मी
गर्मी
Ranjeet kumar patre
जब तक लहू बहे रग- रग में
जब तक लहू बहे रग- रग में
शायर देव मेहरानियां
इश्क की रूह
इश्क की रूह
आर एस आघात
धीरज रख ओ मन
धीरज रख ओ मन
Harish Chandra Pande
*सबसे महॅंगा इस समय, छपवाने का काम (कुंडलिया)*
*सबसे महॅंगा इस समय, छपवाने का काम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
हिम्मत कर लड़,
हिम्मत कर लड़,
पूर्वार्थ
आखिरी मोहब्बत
आखिरी मोहब्बत
Shivkumar barman
मुड़े पन्नों वाली किताब
मुड़े पन्नों वाली किताब
Surinder blackpen
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Jitendra Kumar Noor
नारी
नारी
नन्दलाल सुथार "राही"
प्रेरणा और पराक्रम
प्रेरणा और पराक्रम
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
2828. *पूर्णिका*
2828. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बारिश का मौसम
बारिश का मौसम
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
शिक्षक दिवस
शिक्षक दिवस
नूरफातिमा खातून नूरी
"डिब्बा बन्द"
Dr. Kishan tandon kranti
समय
समय
Dr.Priya Soni Khare
मकर संक्रांति -
मकर संक्रांति -
Raju Gajbhiye
बढ़े चलो ऐ नौजवान
बढ़े चलो ऐ नौजवान
नेताम आर सी
सीरिया रानी
सीरिया रानी
Dr. Mulla Adam Ali
जब हम सोचते हैं कि हमने कुछ सार्थक किया है तो हमें खुद पर गर
जब हम सोचते हैं कि हमने कुछ सार्थक किया है तो हमें खुद पर गर
ललकार भारद्वाज
कहां खो गए
कहां खो गए
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
" माटी की कहानी"
Pushpraj Anant
*** बिंदु और परिधि....!!! ***
*** बिंदु और परिधि....!!! ***
VEDANTA PATEL
Loading...