Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jul 2016 · 1 min read

कदर न हुई

जब तक रहे बन्दिशों मे कदर न हुई
हुई कदर भी यूँ की कोई खबर न हुई
****************************
मिलती रही हैं यूं दुश्वारियां हमसे कि
मिली ख़ुशी तो ख़ुशी पल भर न हुई
****************************
कपिल कुमार
29/07/2016

Language: Hindi
Tag: मुक्तक
312 Views
You may also like:
“फेसबूक के सेलेब्रिटी”
DrLakshman Jha Parimal
वक़्त बे-वक़्त तुझे याद किया
Anis Shah
प्रवचन में मुनि ज्ञान ने
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बदला हुआ ज़माना है
Dr. Sunita Singh
गला रेत इंसान का,मार ठहाके हंसता है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
■ आज का गहन शोध
*Author प्रणय प्रभात*
आओ प्यार कर लें
Shekhar Chandra Mitra
✍️और शिद्दते बढ़ गयी है...
'अशांत' शेखर
माँ दुर्गा।
Anil Mishra Prahari
हर घर तिरंगा प्यारा हो - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
तुम्हारा खयाल आया है।
Taj Mohammad
तुम मेरे नसीब मे न थे
Anamika Singh
प्रिये
Kamal Deependra Singh
सफल इंसान की खूबियां
Pratibha Kumari
चौपाई - धुँआ धुँआ बादल बादल l
अरविन्द व्यास
निज सुरक्षित भावी
AMRESH KUMAR VERMA
चाल कुछ ऐसी चल गया कोई।
सत्य कुमार प्रेमी
सोशल मीडिया
Kaur Surinder
नारी शक्ति के नौरूपों की आराधना नौरात एव वर्तमान में...
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
तुम इतना जो मुस्कराती हो,
Dr. Nisha Mathur
हम बगावत तो
Dr fauzia Naseem shad
अमृत महोत्सव आजादी का
लक्ष्मी सिंह
आख़िरी मुलाकात
N.ksahu0007@writer
🙏महागौरी🙏
पंकज कुमार कर्ण
'गुरु' (देव घनाक्षरी)
Godambari Negi
शिक्षक (कुंडलिया )
Ravi Prakash
नारी_व्यथा
संजीव शुक्ल 'सचिन'
दिल की ये आरजू है
श्री रमण 'श्रीपद्'
आजाद वतन के वासी हम
gurudeenverma198
Tears in eyes
Buddha Prakash
Loading...