Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Sep 2023 · 1 min read

औरत बुद्ध नहीं हो सकती

औरत बुद्ध नहीं हो सकती।
क्योंकि उसमें हौंसला नहीं होता,
सो रहे पुत्र को छोड़कर जाने का।
या फिर समाज की रवायतों के
विरुद्ध जाने का।
दहलीज़ से बाहर पैर रखते ही वो
चरित्र हीन हो जाती है
चाहे उसको ज्ञान की प्राप्ति हो भी जाए
तो भी उसे बुद्ध नहीं माना जायेगा।

औरत कृष्ण भी नहीं हो सकती
क्योंकि बहुत से मर्दों के संग
रास नहीं रचा सकती।
वो बेगैरत,बदचलन ही मानी जायेगी
चाहे वो कितनी ही द्रोपदियों को
चीर हरण से बचा ले
वो कृष्ण नहीं हो सकती

औरत सीता भी नहीं हो सकती
जो बार बार परीक्षा दे
अपने पवित्र होने की
और अंत में भगवान के हाथों
दुखी हो
समा जाये धरती की आगोश में
क्योंकि समाज आज भी
औरत की पवित्रता को लेकर
चिंतित हैं।
न कि औरत की सुरक्षा को लेकर।
इसलिए वो सीता भी नहीं हो सकती

हां
वो मां ,बेटी बहू पत्नी
सब-कुछ हो सकती है
बस वो
संत नही
भगवान नहीं
सुरक्षित नहीं

सुरिंदर कौर

Language: Hindi
2 Likes · 116 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Surinder blackpen
View all
You may also like:
"परोपकार के काज"
Dr. Kishan tandon kranti
नजर से मिली नजर....
नजर से मिली नजर....
Harminder Kaur
‘बेटी की विदाई’
‘बेटी की विदाई’
पंकज कुमार कर्ण
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
है सियासत का असर या है जमाने का चलन।
है सियासत का असर या है जमाने का चलन।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
*चुनावी कुंडलिया*
*चुनावी कुंडलिया*
Ravi Prakash
गीत गाऊ
गीत गाऊ
Kushal Patel
आदमी के हालात कहां किसी के बस में होते हैं ।
आदमी के हालात कहां किसी के बस में होते हैं ।
sushil sarna
ये  दुनियाँ है  बाबुल का घर
ये दुनियाँ है बाबुल का घर
Sushmita Singh
लोग महापुरुषों एवम् बड़ी हस्तियों के छोटे से विचार को भी काफ
लोग महापुरुषों एवम् बड़ी हस्तियों के छोटे से विचार को भी काफ
Rj Anand Prajapati
उम्मीद.............एक आशा
उम्मीद.............एक आशा
Neeraj Agarwal
🙏 गुरु चरणों की धूल 🙏
🙏 गुरु चरणों की धूल 🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
माये नि माये
माये नि माये
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*रक्तदान*
*रक्तदान*
Dushyant Kumar
💐प्रेम कौतुक-500💐
💐प्रेम कौतुक-500💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
माफ करना, कुछ मत कहना
माफ करना, कुछ मत कहना
gurudeenverma198
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
श्याम सिंह बिष्ट
बनी दुलहन अवध नगरी, सियावर राम आए हैं।
बनी दुलहन अवध नगरी, सियावर राम आए हैं।
डॉ.सीमा अग्रवाल
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
आरुणि की गुरुभक्ति
आरुणि की गुरुभक्ति
Dr. Pradeep Kumar Sharma
बच कर रहता था मैं निगाहों से
बच कर रहता था मैं निगाहों से
Shakil Alam
मत कुरेदो, उँगलियाँ जल जायेंगीं
मत कुरेदो, उँगलियाँ जल जायेंगीं
Atul "Krishn"
बेटियां!दोपहर की झपकी सी
बेटियां!दोपहर की झपकी सी
Manu Vashistha
बगिया
बगिया
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
आखिर क्या कमी है मुझमें......??
आखिर क्या कमी है मुझमें......??
Keshav kishor Kumar
मौहब्बत जो चुपके से दिलों पर राज़ करती है ।
मौहब्बत जो चुपके से दिलों पर राज़ करती है ।
Phool gufran
आज़ाद जयंती
आज़ाद जयंती
Satish Srijan
वक़्त की रफ़्तार को
वक़्त की रफ़्तार को
Dr fauzia Naseem shad
इंसान ऐसा ही होता है
इंसान ऐसा ही होता है
Mamta Singh Devaa
3218.*पूर्णिका*
3218.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...