Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jan 2024 · 1 min read

एक तूही ममतामई

एक तूही ममतामई, करने तेरी दर्शन
जननी! पुजने, तेरी चरणन, शरण में हम आए
हम आए – हम आए शरण में हम आए।
सुनते ही, महिमा तेरी, करने तेरी दर्शन
जननी! पुजने तेरी, चरणन, शरण में हम आए
हम आए – हम आए, शरण में हम आए।।

मै पापी, अज्ञानी, देख हाल है कैसी
हर खुशी मुझे दिखी, द्वारा तेरी है ऐसी
आंखों को, तेरा ही, इन्तजार है, दे दर्शन माँ पहली पुकार है
नाम तेरा, जपते ही, करने जीवन अर्पण।
जननी! पुजने, तेरी चरणन, शरण में हम आए
हम आए – हम आए, शरण में हम आए।।

एक सहारा,जग की तु, मैया शेरावाली
लगा किनारा, नैया तु, भव मे फसी बेचारी
नाम तेरा, अनुपम हजार है, रुप तेरा अनुपम हजार है
बेटा माँ “बसंत” तेरा, दिखा ज्ञान का दर्पण ।
जननी! पुजने, तेरी चरणन, शरण में हम आए
हम आए – हम आए, शरण में हम आए।।

✍️ बसंत भगवान राय
(धुन: दो अनजाने अजनबी)

Language: Hindi
69 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Basant Bhagawan Roy
View all
You may also like:
फूल फूल और फूल
फूल फूल और फूल
SATPAL CHAUHAN
तुम्हें
तुम्हें
Dr.Pratibha Prakash
मातु शारदे वंदना
मातु शारदे वंदना
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
बेजुबान और कसाई
बेजुबान और कसाई
मनोज कर्ण
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
*दया*
*दया*
Dushyant Kumar
बोलने से सब होता है
बोलने से सब होता है
Satish Srijan
राखी
राखी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
#drarunkumarshastei
#drarunkumarshastei
DR ARUN KUMAR SHASTRI
गुलाब के अलग हो जाने पर
गुलाब के अलग हो जाने पर
ruby kumari
बच्चे बूढ़े और जवानों में
बच्चे बूढ़े और जवानों में
विशाल शुक्ल
■ रोने से क्या होने वाला...?
■ रोने से क्या होने वाला...?
*Author प्रणय प्रभात*
हर किसी के पास एक जैसी ज़िंदगी की घड़ी है, फिर एक तो आराम से
हर किसी के पास एक जैसी ज़िंदगी की घड़ी है, फिर एक तो आराम से
पूर्वार्थ
मुक्तक-विन्यास में रमेशराज की तेवरी
मुक्तक-विन्यास में रमेशराज की तेवरी
कवि रमेशराज
"कुछ रास्ते"
Dr. Kishan tandon kranti
हमारी मोहब्बत का अंजाम कुछ ऐसा हुआ
हमारी मोहब्बत का अंजाम कुछ ऐसा हुआ
Vishal babu (vishu)
" ढले न यह मुस्कान "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
* प्यार की बातें *
* प्यार की बातें *
surenderpal vaidya
"When the storms of life come crashing down, we cannot contr
Manisha Manjari
फनकार
फनकार
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
साहब का कुत्ता (हास्य-व्यंग्य कहानी)
साहब का कुत्ता (हास्य-व्यंग्य कहानी)
दुष्यन्त 'बाबा'
मनोहन
मनोहन
Seema gupta,Alwar
कुछ कमीने आज फ़ोन करके यह कह रहे चलो शाम को पार्टी करते हैं
कुछ कमीने आज फ़ोन करके यह कह रहे चलो शाम को पार्टी करते हैं
Anand Kumar
रहती है किसकी सदा, मरती मानव-देह (कुंडलिया)
रहती है किसकी सदा, मरती मानव-देह (कुंडलिया)
Ravi Prakash
" तुम्हारे इंतज़ार में हूँ "
Aarti sirsat
हमसफ़र
हमसफ़र
अखिलेश 'अखिल'
💐 Prodigy Love-5💐
💐 Prodigy Love-5💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुक्तामणि छंद [सम मात्रिक].
मुक्तामणि छंद [सम मात्रिक].
Subhash Singhai
जय श्री कृष्णा राधे राधे
जय श्री कृष्णा राधे राधे
Shashi kala vyas
शब्द
शब्द
Madhavi Srivastava
Loading...