Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 28, 2022 · 1 min read

आरजू

दिल की ये आरजू थी मेरी
एक हमदर्द ,एक साथी हमें ऐसा मिले
जो साया बनकर सदा साथ रहे मेरे
हम पर सदा वह अपना प्यार बरसाएँ।
सात वचन का मान रख वह,और
मुझे पुरे दिल से अपनाएँ।
जो हम साया हो मेरे दिल की
मेरे बोलने से पहले ही
मेरे दिल की बात समझ जाएँ।
मिलाकर मेरे कदम से कदम
हर मोड़ पर मेरा साथ निभाए।
थामकर अपने हाथों मे मेरा हाथ
मुझे हर पग पर गिरने से बचाएँ।
जिन्दगी के हर सफर मे
वह मेरा साथ निभाए।
सुख हो या हो दुख जीवन मे
अपनापन वह हमेशा जताए।
बीच मझदार मे वह अपना दामन
हमसे छुड़ाकर नही जाए।
रब से मांगा था बस मैंने इतना,
देखो किस्मत से तुम मेरे
जीवन का नसीब बनकर आए।
रब को देखो मेरी विनती
कितना है भाया।
जितना मांगी थी उनसे
उससे कई गुणा हमने
तेरे रूप मे ज्यादा पाया है।
इससे ज्यादा कुछ भी रब से
माँगने की इच्छा नही है।
तेरा साथ रहे मेरे जीवन मे
इससे ज्यादा मेरे लिए
कोई सुख की बात नही है।

अनामिका

3 Likes · 7 Comments · 135 Views
You may also like:
आज की नारी हूँ
Anamika Singh
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
सोए है जो कब्रों में।
Taj Mohammad
संताप
ओनिका सेतिया 'अनु '
मांडवी
Madhu Sethi
मेरे पिता से बेहतर कोई नहीं
Manu Vashistha
नागफनी बो रहे लोग
शेख़ जाफ़र खान
प्रेम
Dr.Priya Soni Khare
हैप्पी फादर्स डे (लघुकथा)
drpranavds
मां
Umender kumar
रस्सियाँ पानी की (पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
नए जूते
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
जब भी
Dr fauzia Naseem shad
शाश्वत सत्य की कलम से।
Manisha Manjari
#दोहे #अवधेश_के_दोहे
Awadhesh Saxena
अपने और जख्म
Anamika Singh
✍️✍️जिंदगी✍️✍️
"अशांत" शेखर
नव गीत
Sushila Joshi
'नटखट नटवर'(डमरू घनाक्षरी)
Godambari Negi
बे-इंतिहा मोहब्बत करते हैं तुमसे
VINOD KUMAR CHAUHAN
【19】 मधुमक्खी
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
हृदय का सरोवर
सुनील कुमार
जाने कहां वो दिन गए फसलें बहार के
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
काश तुम
Dr fauzia Naseem shad
खेत
Buddha Prakash
✍️हौंसला जवाँ उठा है✍️
"अशांत" शेखर
नाशवंत आणि अविनाशी
Shyam Sundar Subramanian
""वक्त ""
Ray's Gupta
दिलदार आना बाकी है
Jatashankar Prajapati
मेरी लेखनी
Anamika Singh
Loading...