Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Dec 2022 · 1 min read

आपकी राय मायने रखती है

इस देश और समाज के
जलते हुए सभी मुद्दों पे!
अपनी राय रखनी होगी
अब हमें पूरी बेबाकी से!!
ये जम्हूरी निज़ाम बचाना
हमारे लिए मुश्किल होगा!
हम पेश नहीं आएंगे अगर
थोड़ी-बहुत गुस्ताख़ी से!!
Shekhar Chandra Mitra
#writer #कवि #bollywood
#Geetkar #गीतकार #rebel
#शायर #बुद्धिजीवी #पत्रकार
#फनकार #कलाकार #मीडिया

Language: Hindi
249 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
व्यस्तता जीवन में होता है,
व्यस्तता जीवन में होता है,
Buddha Prakash
समय
समय
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
गीतिका
गीतिका
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
■मंज़रकशी :--
■मंज़रकशी :--
*Author प्रणय प्रभात*
“मां बनी मम्मी”
“मां बनी मम्मी”
पंकज कुमार कर्ण
"सपनों का संसार"
Dr. Kishan tandon kranti
चूड़ियाँ
चूड़ियाँ
लक्ष्मी सिंह
पारख पूर्ण प्रणेता
पारख पूर्ण प्रणेता
प्रेमदास वसु सुरेखा
" वर्ष 2023 ,बालीवुड के लिए सफ़लता की नयी इबारत लिखेगा "
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
🥀 * गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 * गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
'अशांत' शेखर
You cannot find me in someone else
You cannot find me in someone else
Sakshi Tripathi
वर्तमान समय मे धार्मिक पाखण्ड ने भारतीय समाज को पूरी तरह दोह
वर्तमान समय मे धार्मिक पाखण्ड ने भारतीय समाज को पूरी तरह दोह
शेखर सिंह
प्रेम पगडंडी कंटीली फिर भी जीवन कलरव है।
प्रेम पगडंडी कंटीली फिर भी जीवन कलरव है।
Neelam Sharma
कि दे दो हमें मोदी जी
कि दे दो हमें मोदी जी
Jatashankar Prajapati
सुप्रभातम
सुप्रभातम
Ravi Ghayal
साधना से सिद्धि.....
साधना से सिद्धि.....
Santosh Soni
अतिथि देवो न भव
अतिथि देवो न भव
Satish Srijan
अभागा
अभागा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
पुरानी यादें ताज़ा कर रही है।
पुरानी यादें ताज़ा कर रही है।
Manoj Mahato
चली पुजारन...
चली पुजारन...
डॉ.सीमा अग्रवाल
*भर दो गणपति देवता, हम में बुद्धि विवेक (कुंडलिया)*
*भर दो गणपति देवता, हम में बुद्धि विवेक (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
कर्मफल भोग
कर्मफल भोग
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
हम बिहार छी।
हम बिहार छी।
Acharya Rama Nand Mandal
बुलंदियों पर पहुंचाएगा इकदिन मेरा हुनर मुझे,
बुलंदियों पर पहुंचाएगा इकदिन मेरा हुनर मुझे,
प्रदीप कुमार गुप्ता
2546.पूर्णिका
2546.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
अन्त हुआ सब आ गए, झूठे जग के मीत ।
अन्त हुआ सब आ गए, झूठे जग के मीत ।
sushil sarna
दृढ़ आत्मबल की दरकार
दृढ़ आत्मबल की दरकार
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
// स्वर सम्राट मुकेश जन्म शती वर्ष //
// स्वर सम्राट मुकेश जन्म शती वर्ष //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Stop getting distracted by things that have nothing to do wi
Stop getting distracted by things that have nothing to do wi
पूर्वार्थ
Loading...