Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 May 2023 · 1 min read

आदमी की गाथा

हर आदमी एक मजदूर है |
कोई कम तो कोई ज्यादा मजबूर है |
संघर्ष से मिलता जन्नत का नूर है |
यही प्यारे दुनिया का दस्तूर है |
सभी को अपनी खासियतों पर गरूर है |
पर सभी में कहीं न कहीं कमियां जरूर है |
अपने कार्यों को दूसरों पर थोपते देखे |
इतने पागलों में कुछ नेक भी देखे |
जंग जितना आसान नही प्यारे |
इसमें इंसान अपना सब कुछ वारे |
संतुष्ट शब्द कहीं खो सा गया है |
हर कोई दुखी हो सा गया है |
जीवन में सब कुछ खुदा की माया है |
उसे भी भला कोई समझ पाया है |
इतना ऊँचा भी मत उड़ो जैसे पेड़ खजूर है।
न छाया दे ,फल भी लागे अति दूर है |
सूरज की माना गर्मी जरूर है
पर बादलों के सामने झुकना उसे मंजूर है |
सुखी आदमी दिखता अब दूर है |
सबको कोई न कोई दुःख जरुर है |
अपने फर्ज को सबसे बड़ा मानो |
अपनी मंजिल को जल्दी पहचानो |
रुकना मुर्दे की निशानी है |
चलते रहो जब तक जिंदगानी है |
होंसले रखो हमेशा बुलंद |
हंसो और बोलो मंद मंद |
खुदा के नाम को रखो अपने संग |
फिर देखो तुम कुदरत के रंग |
चींटी चढ़ जाये जब पहाड़ |
तू भी हो जा लक्ष्य पर सवार |
तेरा भी हो जाएगा एक दिन कल्याण |
मेहनत करता जा तू अपार |
करनी का फल पाता है हर कोई |
इसमें न किसी का कोई कसूर है |
क्योंकि हर आदमी यहाँ एक मजदूर है |
कोई कम तो कोई ज्यादा मजबूर है |

Language: Hindi
92 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from कृष्ण मलिक अम्बाला
View all
You may also like:
जो गगन जल थल में है सुख धाम है।
जो गगन जल थल में है सुख धाम है।
सत्य कुमार प्रेमी
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
लक्ष्मी-पूजन
लक्ष्मी-पूजन
कवि रमेशराज
चल मनवा चलें.....!!
चल मनवा चलें.....!!
Kanchan Khanna
शिक्षा (Education) (#नेपाली_भाषा)
शिक्षा (Education) (#नेपाली_भाषा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
*माँ*
*माँ*
Naushaba Suriya
महिलाएं जितना तेजी से रो सकती है उतना ही तेजी से अपने भावनाओ
महिलाएं जितना तेजी से रो सकती है उतना ही तेजी से अपने भावनाओ
Rj Anand Prajapati
*रिश्वत ( कुंडलिया )*
*रिश्वत ( कुंडलिया )*
Ravi Prakash
वैमनस्य का अहसास
वैमनस्य का अहसास
Dr Parveen Thakur
तुम नहीं आये
तुम नहीं आये
Surinder blackpen
“जहां गलती ना हो, वहाँ झुको मत
“जहां गलती ना हो, वहाँ झुको मत
शेखर सिंह
" नेतृत्व के लिए उम्र बड़ी नहीं, बल्कि सोच बड़ी होनी चाहिए"
नेताम आर सी
विटप बाँटते छाँव है,सूर्य बटोही धूप।
विटप बाँटते छाँव है,सूर्य बटोही धूप।
डॉक्टर रागिनी
अगर लोग आपको rude समझते हैं तो समझने दें
अगर लोग आपको rude समझते हैं तो समझने दें
ruby kumari
नादानी
नादानी
Shaily
हर तूफ़ान के बाद खुद को समेट कर सजाया है
हर तूफ़ान के बाद खुद को समेट कर सजाया है
Pramila sultan
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
Keshav kishor Kumar
विनम्रता, सादगी और सरलता उनके व्यक्तित्व के आकर्षण थे। किसान
विनम्रता, सादगी और सरलता उनके व्यक्तित्व के आकर्षण थे। किसान
Shravan singh
मैं तुमसे दुर नहीं हूँ जानम,
मैं तुमसे दुर नहीं हूँ जानम,
Dr. Man Mohan Krishna
2373.पूर्णिका
2373.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
"उम्मीद का दीया"
Dr. Kishan tandon kranti
ज्ञान-दीपक
ज्ञान-दीपक
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"वक्त की औकात"
Ekta chitrangini
कमियाबी क्या है
कमियाबी क्या है
पूर्वार्थ
हँसकर गुजारी
हँसकर गुजारी
Bodhisatva kastooriya
💐अज्ञात के प्रति-42💐
💐अज्ञात के प्रति-42💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आँगन में एक पेड़ चाँदनी....!
आँगन में एक पेड़ चाँदनी....!
singh kunwar sarvendra vikram
😊■रोज़गार■😊
😊■रोज़गार■😊
*Author प्रणय प्रभात*
4) धन्य है सफर
4) धन्य है सफर
पूनम झा 'प्रथमा'
“ OUR NEW GENERATION IS OUR GUIDE”
“ OUR NEW GENERATION IS OUR GUIDE”
DrLakshman Jha Parimal
Loading...