Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Mar 2023 · 1 min read

आज फ़िर दिल ने इक तमन्ना की..

आज फ़िर दिल ने इक तमन्ना की..
आज फिर दिल को हमने समझाया

जावेद अख़्तर

200 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
यह कैसा है धर्म युद्ध है केशव
यह कैसा है धर्म युद्ध है केशव
VINOD CHAUHAN
Being an ICSE aspirant
Being an ICSE aspirant
Sukoon
ज़िंदादिली
ज़िंदादिली
Dr.S.P. Gautam
प्रेम की चाहा
प्रेम की चाहा
RAKESH RAKESH
बरखा रानी
बरखा रानी
लक्ष्मी सिंह
2949.*पूर्णिका*
2949.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
विश्वास
विश्वास
Dr. Pradeep Kumar Sharma
फुर्सत से आईने में जब तेरा दीदार किया।
फुर्सत से आईने में जब तेरा दीदार किया।
Phool gufran
लम्हा-लम्हा
लम्हा-लम्हा
Surinder blackpen
दो साँसों के तीर पर,
दो साँसों के तीर पर,
sushil sarna
!! मेरी विवशता !!
!! मेरी विवशता !!
Akash Yadav
"ख़्वाहिश"
Dr. Kishan tandon kranti
सवैया छंदों के नाम व मापनी (सउदाहरण )
सवैया छंदों के नाम व मापनी (सउदाहरण )
Subhash Singhai
दवा के ठाँव में
दवा के ठाँव में
Dr. Sunita Singh
Love whole heartedly
Love whole heartedly
Dhriti Mishra
इश्क चाँद पर जाया करता है
इश्क चाँद पर जाया करता है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
सजी सारी अवध नगरी , सभी के मन लुभाए हैं
सजी सारी अवध नगरी , सभी के मन लुभाए हैं
Rita Singh
#आप_भी_बनिए_मददगार
#आप_भी_बनिए_मददगार
*Author प्रणय प्रभात*
’जूठन’ आत्मकथा फेम के हिंदी साहित्य के सबसे बड़े दलित लेखक ओमप्रकाश वाल्मीकि / MUSAFIR BAITHA
’जूठन’ आत्मकथा फेम के हिंदी साहित्य के सबसे बड़े दलित लेखक ओमप्रकाश वाल्मीकि / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
The Magical Darkness
The Magical Darkness
Manisha Manjari
जब कैमरे काले हुआ करते थे तो लोगो के हृदय पवित्र हुआ करते थे
जब कैमरे काले हुआ करते थे तो लोगो के हृदय पवित्र हुआ करते थे
Rj Anand Prajapati
*जग में होता मान उसी का, पैसा जिसके पास है (हिंदी गजल)*
*जग में होता मान उसी का, पैसा जिसके पास है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
हम और तुम जीवन के साथ
हम और तुम जीवन के साथ
Neeraj Agarwal
मिष्ठी का प्यारा आम
मिष्ठी का प्यारा आम
Manu Vashistha
सफलता का मार्ग
सफलता का मार्ग
Praveen Sain
🥀 *अज्ञानी की कलम* 🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम* 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
हिडनवर्ग प्रपंच
हिडनवर्ग प्रपंच
मनोज कर्ण
जिसके मन तृष्णा रहे, उपजे दुख सन्ताप।
जिसके मन तृष्णा रहे, उपजे दुख सन्ताप।
अभिनव अदम्य
💐प्रेम कौतुक-313💐
💐प्रेम कौतुक-313💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कलियुग
कलियुग
Prakash Chandra
Loading...