Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Feb 18, 2022 · 1 min read

आगे बढ़,मतदान करें।

देश हेतु कुछ काम करें।
लोकतंत्र का मान करें।
जागरूक बनकर हम सब।
आगे बढ़,मतदान करें।

अवनति-हिंसा का दानव
छोड़, चुने सच्चा मानव।
प्रेम-शांति-अपनापन औ,
सद्विकास-सम्मान करें।
आगे बढ़, मतदान करें।

जो समाज का हो पोषक
और प्रजाहित उद्घोषक।
मिलकर उसका मान तथा
शोषित का उत्थान करें।
आगे बढ़,मतदान करें।

तुम सोए तो देश फँसा।
जातिवाद औ द्वेष-नशा,
झूमेगा, घर-आँगन में।
निज को क्यों अवसान करें।
आगे बढ़, मतदान करें।

——————————————-

यह रचना मेरी कृति “पं बृजेश कुमार नायक की चुनिंदा रचनाएं” काव्य संग्रह के द्वितीय संस्करण के पृष्ठ संख्या 14 एवं 15 पर भी पढ़ी जा सकती है।

“पं बृजेश कुमार नायक की चुनिंदा रचनाएं ” कृति का द्वितीय संस्करण अमेजोन और फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है।

पं बृजेश कुमार नायक

2 Likes · 2 Comments · 357 Views
You may also like:
नशामुक्ति (भोजपुरी लोकगीत)
संजीव शुक्ल 'सचिन'
नई सुबह रोज
Prabhudayal Raniwal
मनमीत मेरे
Dr.sima
बुद्ध पूर्णिमा पर मेरे मन के उदगार
Ram Krishan Rastogi
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पर्यावरण दिवस
Ram Krishan Rastogi
.....उनके लिए मैं कितना लिखूं?
ऋचा त्रिपाठी
गुणगान क्यों
spshukla09179
यश तुम्हारा भी होगा
Rj Anand Prajapati
तेरी आरज़ू, तेरी वफ़ा
VINOD KUMAR CHAUHAN
यादें आती हैं
Krishan Singh
✍️'महा'राजनीति✍️
"अशांत" शेखर
सदा बढता है,वह 'नायक', अमल बन ताज ठुकराता|
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पिता
Ram Krishan Rastogi
साहब का कुत्ता (हास्य व्यंग्य कहानी)
दुष्यन्त 'बाबा'
*"पिता"*
Shashi kala vyas
** बेटी की बिदाई का दर्द **
Dr. Alpa H. Amin
मानव तू हाड़ मांस का।
Taj Mohammad
तुमसे इश्क कर रहे हैं।
Taj Mohammad
मोहब्बत की दर्द- ए- दास्ताँ
Jyoti Khari
सिंधु का विस्तार देखो
surenderpal vaidya
कभी जमीं कभी आसमां बन जाता है।
Taj Mohammad
*!* सोच नहीं कमजोर है तू *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
**किताब**
Dr. Alpa H. Amin
पुन्हा..!
"अशांत" शेखर
देखो हाथी राजा आए
VINOD KUMAR CHAUHAN
THANKS
Vikas Sharma'Shivaaya'
घनाक्षरी छंद
शेख़ जाफ़र खान
फरिश्ता बन गए हो।
Taj Mohammad
प्रणाम : पल्लवी राय जी तथा सीन शीन आलम साहब
Ravi Prakash
Loading...