Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Nov 2023 · 1 min read

अलसाई आँखे

इन अलसाई आँखों से कह दो
अब सोने का वक्त खत्म हुआ
कर्म प्रधान इस दुनियां में अब
सोते रहने का वक्त ख़त्म हुआ
प्रभात के प्रहरी अब मिल सब
नव दिवस का आराधन वंदन करते है
तब तू क्यू प्राणी अपने बिस्तर कर
इन अलसाई आँखों को मसला करते हो
पंछी अपने घोंसले से पशु भीअपने बाड़े से
जलचर -नभचर जल में नभ में
विचरण करने को करने को निकल पड़े
आप अभी भी इस करवट से उस करवट
तकिया लेकर बस सिमट पड़े
अब इन अलसाई आँखों को कह दो
दिनकर का उठकर रसपान करे
थोड़ी सी साफ़ सफाई कर अपनी
निज भगवन का गुणगान करे

डॉ एल के मिश्रा

2 Likes · 154 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
विश्वास का धागा
विश्वास का धागा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
डॉ. अम्बेडकर ने ऐसे लड़ा प्रथम चुनाव
डॉ. अम्बेडकर ने ऐसे लड़ा प्रथम चुनाव
कवि रमेशराज
रज़ा से उसकी अगर
रज़ा से उसकी अगर
Dr fauzia Naseem shad
रंजीत कुमार शुक्ल
रंजीत कुमार शुक्ल
Ranjeet Kumar Shukla
आहुति
आहुति
Khumar Dehlvi
अहिल्या
अहिल्या
Dr.Priya Soni Khare
* मन कही *
* मन कही *
surenderpal vaidya
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
गम के आगे ही खुशी है ये खुशी कहने लगी।
गम के आगे ही खुशी है ये खुशी कहने लगी।
सत्य कुमार प्रेमी
अर्थ का अनर्थ
अर्थ का अनर्थ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
या देवी सर्वभूतेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता । नमस्तस्यै
या देवी सर्वभूतेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता । नमस्तस्यै
Harminder Kaur
फ़ितरत
फ़ितरत
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
💐प्रेम कौतुक-226💐
💐प्रेम कौतुक-226💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दिलरुबा जे रहे
दिलरुबा जे रहे
Shekhar Chandra Mitra
ला मुरारी हीरो बनने ....
ला मुरारी हीरो बनने ....
Abasaheb Sarjerao Mhaske
देने तो आया था मैं उसको कान का झुमका,
देने तो आया था मैं उसको कान का झुमका,
Vishal babu (vishu)
मिले तो हम उनसे पहली बार
मिले तो हम उनसे पहली बार
DrLakshman Jha Parimal
हरियाली के बीच में , माँ का पकड़े हाथ ।
हरियाली के बीच में , माँ का पकड़े हाथ ।
Mahendra Narayan
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
हे प्रभु !
हे प्रभु !
Shubham Pandey (S P)
मेरी तू  रूह  में  बसती  है
मेरी तू रूह में बसती है
डॉ. दीपक मेवाती
श्रम साधक को विश्राम नहीं
श्रम साधक को विश्राम नहीं
संजय कुमार संजू
*सर्वोत्तम शाकाहार है (गीत)*
*सर्वोत्तम शाकाहार है (गीत)*
Ravi Prakash
जल से सीखें
जल से सीखें
Saraswati Bajpai
*कर्मफल सिद्धांत*
*कर्मफल सिद्धांत*
Shashi kala vyas
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
Kshma Urmila
🙅महा-राष्ट्रवाद🙅
🙅महा-राष्ट्रवाद🙅
*Author प्रणय प्रभात*
अनेक को दिया उजाड़
अनेक को दिया उजाड़
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
ना फूल मेरी क़ब्र पे
ना फूल मेरी क़ब्र पे
Shweta Soni
अजी सुनते हो मेरे फ्रिज में टमाटर भी है !
अजी सुनते हो मेरे फ्रिज में टमाटर भी है !
Anand Kumar
Loading...