Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Aug 2022 · 1 min read

#अपने तो अपने होते हैं

#अपने तो अपने होते हैं

अपने तो अपने ही होते हैं,
कड़वे बोल, डांट फटकार लगाते हैं,
परायों में कहां वो बात होती है,
अपने तो ऐसे ही प्यार जताते हैं।।

#seematuhaina

Language: Hindi
5 Likes · 2 Comments · 288 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
तुमसे करता हूँ मोहब्बत मैं जैसी
तुमसे करता हूँ मोहब्बत मैं जैसी
gurudeenverma198
अपने को अपना बना कर रखना जितना कठिन है उतना ही सहज है दूसरों
अपने को अपना बना कर रखना जितना कठिन है उतना ही सहज है दूसरों
Paras Nath Jha
डॉ अरुण कुमार शास्त्री - एक अबोध बालक
डॉ अरुण कुमार शास्त्री - एक अबोध बालक
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कैसा अजीब है
कैसा अजीब है
हिमांशु Kulshrestha
दुनियां में सब नौकर हैं,
दुनियां में सब नौकर हैं,
Anamika Tiwari 'annpurna '
ग़ज़ल --
ग़ज़ल --
Seema Garg
फूलों की बात हमारे,
फूलों की बात हमारे,
Neeraj Agarwal
तस्वीर!
तस्वीर!
कविता झा ‘गीत’
गुलों पर छा गई है फिर नई रंगत
गुलों पर छा गई है फिर नई रंगत "कश्यप"।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
प्रेम से बढ़कर कुछ नहीं
प्रेम से बढ़कर कुछ नहीं
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
प्रेम को भला कौन समझ पाया है
प्रेम को भला कौन समझ पाया है
Mamta Singh Devaa
.......,,
.......,,
शेखर सिंह
अशोक चाँद पर
अशोक चाँद पर
Satish Srijan
* सत्य,
* सत्य,"मीठा या कड़वा" *
मनोज कर्ण
* पावन धरा *
* पावन धरा *
surenderpal vaidya
कत्ल खुलेआम
कत्ल खुलेआम
Diwakar Mahto
मुक्तक
मुक्तक
प्रीतम श्रावस्तवी
महापुरुषों की सीख
महापुरुषों की सीख
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Keep On Trying!
Keep On Trying!
R. H. SRIDEVI
अनंतनाग में परचम फहरा गए
अनंतनाग में परचम फहरा गए
Harminder Kaur
// तुम सदा खुश रहो //
// तुम सदा खुश रहो //
Shivkumar barman
■ सरोकार-
■ सरोकार-
*प्रणय प्रभात*
"अजीब फलसफा"
Dr. Kishan tandon kranti
दोहा
दोहा
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
मुझे हमेशा लगता था
मुझे हमेशा लगता था
ruby kumari
*कभी उन चीजों के बारे में न सोचें*
*कभी उन चीजों के बारे में न सोचें*
नेताम आर सी
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
नूरफातिमा खातून नूरी
बस एक प्रहार कटु वचन का - मन बर्फ हो जाए
बस एक प्रहार कटु वचन का - मन बर्फ हो जाए
Atul "Krishn"
*कभी लगता है : तीन शेर*
*कभी लगता है : तीन शेर*
Ravi Prakash
बातों की कोई उम्र नहीं होती
बातों की कोई उम्र नहीं होती
Meera Thakur
Loading...