Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Apr 2024 · 1 min read

अपनी मर्ज़ी के

टूटे उम्मीद तो शिकायत कैसी ,
अपनी मर्ज़ी के मुताबिक सब हैं ।
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
6 Likes · 78 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
23/161.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/161.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जिन्होंने भारत को लूटा फैलाकर जाल
जिन्होंने भारत को लूटा फैलाकर जाल
Rakesh Panwar
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
🙅आज का आनंद🙅
🙅आज का आनंद🙅
*प्रणय प्रभात*
दिल है के खो गया है उदासियों के मौसम में.....कहीं
दिल है के खो गया है उदासियों के मौसम में.....कहीं
shabina. Naaz
जिसने शौक को दफ़्नाकर अपने आप से समझौता किया है। वह इंसान इस
जिसने शौक को दफ़्नाकर अपने आप से समझौता किया है। वह इंसान इस
Lokesh Sharma
बदलती हवाओं का स्पर्श पाकर कहीं विकराल ना हो जाए।
बदलती हवाओं का स्पर्श पाकर कहीं विकराल ना हो जाए।
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
गंगा- सेवा के दस दिन (तीसरा दिन)- मंगलवार 18जून2024
गंगा- सेवा के दस दिन (तीसरा दिन)- मंगलवार 18जून2024
Kaushal Kishor Bhatt
भूल गया कैसे तू हमको
भूल गया कैसे तू हमको
gurudeenverma198
"लबालब समन्दर"
Dr. Kishan tandon kranti
श्रम साधिका
श्रम साधिका
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
कर्म से कर्म परिभाषित
कर्म से कर्म परिभाषित
Neerja Sharma
रमेशराज के नवगीत
रमेशराज के नवगीत
कवि रमेशराज
इंसान चाहे कितना ही आम हो..!!
इंसान चाहे कितना ही आम हो..!!
शेखर सिंह
हमारी सोच
हमारी सोच
Neeraj Agarwal
हिन्दी दिवस
हिन्दी दिवस
मनोज कर्ण
आपसे कोई लड़की मोहब्बत नही करती बल्की अपने अंदर अंतर्निहित व
आपसे कोई लड़की मोहब्बत नही करती बल्की अपने अंदर अंतर्निहित व
Rj Anand Prajapati
संवेदना
संवेदना
Shama Parveen
हल
हल
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
कोई तो है
कोई तो है
ruby kumari
दौलत से सिर्फ
दौलत से सिर्फ"सुविधाएं"मिलती है
नेताम आर सी
https://youtube.com/@pratibhaprkash?si=WX_l35pU19NGJ_TX
https://youtube.com/@pratibhaprkash?si=WX_l35pU19NGJ_TX
Dr.Pratibha Prakash
प्रेरणा और पराक्रम
प्रेरणा और पराक्रम
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सपने
सपने
Santosh Shrivastava
जिसकी भी आप तलाश मे हैं, वह आपके अन्दर ही है।
जिसकी भी आप तलाश मे हैं, वह आपके अन्दर ही है।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
खूबसूरती
खूबसूरती
Ritu Asooja
लिखने के आयाम बहुत हैं
लिखने के आयाम बहुत हैं
Shweta Soni
परमपिता तेरी जय हो !
परमपिता तेरी जय हो !
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
ये दिल न जाने क्या चाहता है...
ये दिल न जाने क्या चाहता है...
parvez khan
"You can still be the person you want to be, my love. Mistak
पूर्वार्थ
Loading...