Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Feb 2023 · 1 min read

अजनबी सा लगता है मुझे अब हर एक शहर

अजनबी सा लगता है मुझे अब हर एक शहर
ढूँढ रहा हूँ मंझिल के लिए ऐसी कोई एक डगर

क्या मालूम के कब कहाँ से चल पड़े थे ये कदम
मुक्कमल जिंदगी के लिए सदियो का एक सफ़र

⚪️ ‘अशांत’ शेखर
07/02/2023

1 Like · 2 Comments · 360 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अतुल वरदान है हिंदी, सकल सम्मान है हिंदी।
अतुल वरदान है हिंदी, सकल सम्मान है हिंदी।
Neelam Sharma
अस्तित्व
अस्तित्व
Shyam Sundar Subramanian
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
Dheerja Sharma
नव वर्ष की बधाई -2024
नव वर्ष की बधाई -2024
Raju Gajbhiye
रात का आलम था और ख़ामोशियों की गूंज थी
रात का आलम था और ख़ामोशियों की गूंज थी
N.ksahu0007@writer
*तुलसी तुम्हें प्रणाम : कुछ दोहे*
*तुलसी तुम्हें प्रणाम : कुछ दोहे*
Ravi Prakash
आसमाँ  इतना भी दूर नहीं -
आसमाँ इतना भी दूर नहीं -
Atul "Krishn"
" नश्वर "
Dr. Kishan tandon kranti
संवादरहित मित्रता, मूक समाज और व्यथा पीड़ित नारी में परिवर्तन
संवादरहित मित्रता, मूक समाज और व्यथा पीड़ित नारी में परिवर्तन
DrLakshman Jha Parimal
शिकवा
शिकवा
अखिलेश 'अखिल'
गौर फरमाएं अर्ज किया है....!
गौर फरमाएं अर्ज किया है....!
पूर्वार्थ
2122/2122/212
2122/2122/212
सत्य कुमार प्रेमी
ख़ून इंसानियत का
ख़ून इंसानियत का
Dr fauzia Naseem shad
शब्द लौटकर आते हैं,,,,
शब्द लौटकर आते हैं,,,,
Shweta Soni
क्या छिपा रहे हो
क्या छिपा रहे हो
Ritu Asooja
बहुत कीमती है पानी,
बहुत कीमती है पानी,
Anil Mishra Prahari
सरस रंग
सरस रंग
Punam Pande
🙅आमंत्रण🙅
🙅आमंत्रण🙅
*प्रणय प्रभात*
बचपन
बचपन
संजय कुमार संजू
कोरे कागज़ पर
कोरे कागज़ पर
हिमांशु Kulshrestha
ज़िद से भरी हर मुसीबत का सामना किया है,
ज़िद से भरी हर मुसीबत का सामना किया है,
Kanchan Alok Malu
स्वयं से तकदीर बदलेगी समय पर
स्वयं से तकदीर बदलेगी समय पर
महेश चन्द्र त्रिपाठी
दशहरा पर्व पर कुछ दोहे :
दशहरा पर्व पर कुछ दोहे :
sushil sarna
अनुभूत सत्य .....
अनुभूत सत्य .....
विमला महरिया मौज
बात तनिक ह हउवा जादा
बात तनिक ह हउवा जादा
Sarfaraz Ahmed Aasee
गर्म चाय
गर्म चाय
Kanchan Khanna
भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान : कर्नल सी. के. नायडू
भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान : कर्नल सी. के. नायडू
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ना वह हवा ना पानी है अब
ना वह हवा ना पानी है अब
VINOD CHAUHAN
देख भाई, ये जिंदगी भी एक न एक दिन हमारा इम्तिहान लेती है ,
देख भाई, ये जिंदगी भी एक न एक दिन हमारा इम्तिहान लेती है ,
Dr. Man Mohan Krishna
जिंदगी में एक रात ऐसे भी आएगी जिसका कभी सुबह नहीं होगा ll
जिंदगी में एक रात ऐसे भी आएगी जिसका कभी सुबह नहीं होगा ll
Ranjeet kumar patre
Loading...