Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Aug 2022 · 1 min read

अक्सर सोचतीं हुँ………

अक्सर सोचती हूँ,….की,..कैसे! वो
मुंह को निवाले का एहसान जताकर ,
उन आंखों से खता कर,
इस दिल पर राज जमाकर,
फिर एक झटके में ही…
उसे नाराज कर जाते हैं…!!
जिन बालों में उँगलियों को उसने
प्यार से फेरा हो कभी !
नाज़ुक होंठों को लबों से उसने
जी भरकर चूमा हो कभी !
फिर कैसे उसे ही सरेआम …
नीलाम कर पाते हैं …!!
वो जश्न-ए-इश्क़ के मेले में
खूब झूमकर ….!
हाथों में अपना हाथ दिए
वो सारा शहर घूमकर …!
फ़िर कैसे वो उन पलों को
हुई एक भूल का नाम दे जातें हैं ..!!
कहते हैं जो दिल में बसा हो
वो परिशुद्ध प्रेम है …..
फिर क्यूं ! लोग उसे जिस्मों का खेल समझ ,
यू ही बदनाम कर जाते हैं ……!!

✍ palak shreya

5 Likes · 8 Comments · 281 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
तिल,गुड़ और पतंग
तिल,गुड़ और पतंग
VINOD CHAUHAN
आशा
आशा
नवीन जोशी 'नवल'
बारिश
बारिश
विजय कुमार अग्रवाल
पौष की सर्दी/
पौष की सर्दी/
जगदीश शर्मा सहज
पहचान
पहचान
Shashi kala vyas
हर दिन नया
हर दिन नया
Dr fauzia Naseem shad
चाहत किसी को चाहने की है करते हैं सभी
चाहत किसी को चाहने की है करते हैं सभी
SUNIL kumar
💐प्रेम कौतुक-492💐
💐प्रेम कौतुक-492💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपना ही ख़ैर करने लगती है जिन्दगी;
अपना ही ख़ैर करने लगती है जिन्दगी;
manjula chauhan
उतरन
उतरन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कहमुकरी
कहमुकरी
डॉ.सीमा अग्रवाल
देखा है।
देखा है।
Shriyansh Gupta
सर्वश्रेष्ठ गीत - जीवन के उस पार मिलेंगे
सर्वश्रेष्ठ गीत - जीवन के उस पार मिलेंगे
Shivkumar Bilagrami
संकट मोचन हनुमान जी
संकट मोचन हनुमान जी
Neeraj Agarwal
Hello Sun!
Hello Sun!
Buddha Prakash
मौसम नहीं बदलते हैं मन बदलना पड़ता है
मौसम नहीं बदलते हैं मन बदलना पड़ता है
कवि दीपक बवेजा
#DrArunKumarshastri
#DrArunKumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तपिश धूप की तो महज पल भर की मुश्किल है साहब
तपिश धूप की तो महज पल भर की मुश्किल है साहब
Yogini kajol Pathak
प्यार को प्यार ही रहने दो कोई नाम न दो : संजना
प्यार को प्यार ही रहने दो कोई नाम न दो : संजना
डॉ. एम. फ़ीरोज़ ख़ान
" मटको चिड़िया "
Dr Meenu Poonia
रस्सी जैसी जिंदगी हैं,
रस्सी जैसी जिंदगी हैं,
Jay Dewangan
"नए पुराने नाम"
Dr. Kishan tandon kranti
You are not born
You are not born
Vandana maurya
रिश्तों की मर्यादा
रिश्तों की मर्यादा
Rajni kapoor
अगनित अभिलाषा
अगनित अभिलाषा
Dr. Meenakshi Sharma
ऋतु गर्मी की आ गई,
ऋतु गर्मी की आ गई,
Vedha Singh
#अनुभूत_अभिव्यक्ति
#अनुभूत_अभिव्यक्ति
*Author प्रणय प्रभात*
आज उम्मीद है के कल अच्छा होगा
आज उम्मीद है के कल अच्छा होगा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*भूमिका*
*भूमिका*
Ravi Prakash
2635.पूर्णिका
2635.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
Loading...