Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Jun 2022 · 1 min read

We Would Be Connected Actually

I caressed the memories once again,
That had been touched by us together then.
The flower had been picked by me randomly,
But been preserved by you beautifully!
you saved the half-piece on your dashboard,
So that you could feel my presence wherever you explored!
The wind is still singing in those tiny leaves,
Where the moments and our fragrance have been locked, the heart believes.
The memento must have been dried up now,
Still, that has the power to drag up all the emotions that I tried not to allow.
This night and this silvery sky have taken me to that foggy edge,
Where we held hands and were lost in that misty cage.
Our wavelength must have tied us together eventually,
Even if you were on the next planet, we would be connected actually.

Language: English
Tag: Poem
5 Likes · 1 Comment · 441 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Manisha Manjari
View all
You may also like:
उल्फत के हर वर्क पर,
उल्फत के हर वर्क पर,
sushil sarna
शिव आदि पुरुष सृष्टि के,
शिव आदि पुरुष सृष्टि के,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
* हर परिस्थिति को निजी अनुसार कर लो(हिंदी गजल/गीतिका)*
* हर परिस्थिति को निजी अनुसार कर लो(हिंदी गजल/गीतिका)*
Ravi Prakash
■ जय नागलोक
■ जय नागलोक
*Author प्रणय प्रभात*
मुस्कान
मुस्कान
Santosh Shrivastava
Don't get hung up
Don't get hung up
पूर्वार्थ
ज़िन्दगी चल नए सफर पर।
ज़िन्दगी चल नए सफर पर।
Taj Mohammad
सब बढ़िया
सब बढ़िया
Dr. Mahesh Kumawat
बात
बात
Ajay Mishra
आंखों में नींद आती नही मुझको आजकल
आंखों में नींद आती नही मुझको आजकल
कृष्णकांत गुर्जर
2772. *पूर्णिका*
2772. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
عظمت رسول کی
عظمت رسول کی
अरशद रसूल बदायूंनी
कभी कभी कुछ प्रश्न भी, करते रहे कमाल।
कभी कभी कुछ प्रश्न भी, करते रहे कमाल।
Suryakant Dwivedi
जीवन की परख
जीवन की परख
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
12 fail ..👇
12 fail ..👇
Shubham Pandey (S P)
तुमको वो पा लेगा इतनी आसानी से
तुमको वो पा लेगा इतनी आसानी से
Keshav kishor Kumar
मुनाफ़िक़ दोस्त उतना ही ख़तरनाक है
मुनाफ़िक़ दोस्त उतना ही ख़तरनाक है
अंसार एटवी
कोई नही है वास्ता
कोई नही है वास्ता
Surinder blackpen
आपको हम
आपको हम
Dr fauzia Naseem shad
एक इस आदत से, बदनाम यहाँ हम हो गए
एक इस आदत से, बदनाम यहाँ हम हो गए
gurudeenverma198
"खाली हाथ"
Dr. Kishan tandon kranti
मां जैसा ज्ञान देते
मां जैसा ज्ञान देते
Harminder Kaur
अँधेरे रास्ते पर खड़ा आदमी.......
अँधेरे रास्ते पर खड़ा आदमी.......
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*हिंदी दिवस मनावन का  मिला नेक ईनाम*
*हिंदी दिवस मनावन का मिला नेक ईनाम*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
बनारस
बनारस
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
Anand Kumar
जरासन्ध के पुत्रों ने
जरासन्ध के पुत्रों ने
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
जिंदगी में अपने मैं होकर चिंतामुक्त मौज करता हूं।
जिंदगी में अपने मैं होकर चिंतामुक्त मौज करता हूं।
Rj Anand Prajapati
श्री राम अमृतधुन भजन
श्री राम अमृतधुन भजन
Khaimsingh Saini
🙏 अज्ञानी की कलम🙏
🙏 अज्ञानी की कलम🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
Loading...