Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Feb 2023 · 1 min read

💐Prodigy Love-16💐

Oh Dear!
The way is going towards you.
It is speaking about you.
The Way says “Who are you?”
I said,”I am you”
Oh Dear!
Nothing is decent without you.
Flower is saying about you.
They are withering without you.
Oh Dear!
Flower was on that way.
Both are gazing You Dear.
They are giving me Cheer.
Oh! My dear,My dear.
©® Abhishek Parashar “Aanand”

58 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
रामनवमी
रामनवमी
Ram Krishan Rastogi
दिल  धड़कने लगा जब तुम्हारे लिए।
दिल धड़कने लगा जब तुम्हारे लिए।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
अतीत कि आवाज
अतीत कि आवाज
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नरसिंह अवतार
नरसिंह अवतार
Shashi kala vyas
"सुपर स्टार प्रचारक" को
*Author प्रणय प्रभात*
भ्रम जाल
भ्रम जाल
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*भरा हुआ सबके हृदयों में, सबके ही प्रति प्यार हो (गीत)*
*भरा हुआ सबके हृदयों में, सबके ही प्रति प्यार हो (गीत)*
Ravi Prakash
हम रंगों से सजे है
हम रंगों से सजे है
'अशांत' शेखर
दामन
दामन
Dr. Rajiv
सूखा शजर
सूखा शजर
Surinder blackpen
परवरिश
परवरिश
Dr. Pradeep Kumar Sharma
💐प्रेम कौतुक-393💐
💐प्रेम कौतुक-393💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नयी भोर का स्वप्न
नयी भोर का स्वप्न
Arti Bhadauria
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
Vishal babu (vishu)
जैसे ये घर महकाया है वैसे वो आँगन महकाना
जैसे ये घर महकाया है वैसे वो आँगन महकाना
Dr Archana Gupta
चलो हमसफर यादों के शहर में
चलो हमसफर यादों के शहर में
गनेश रॉय " रावण "
कमीना विद्वान।
कमीना विद्वान।
Acharya Rama Nand Mandal
🌷सारे सवालों का जवाब मिलता है 🌷
🌷सारे सवालों का जवाब मिलता है 🌷
Dr.Khedu Bharti
मुझे तुझसे महब्बत है, मगर मैं कह नहीं सकता
मुझे तुझसे महब्बत है, मगर मैं कह नहीं सकता
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हमारा फ़र्ज
हमारा फ़र्ज
Rajni kapoor
ज़रा सी बात पे तू भी अकड़ के बैठ गया।
ज़रा सी बात पे तू भी अकड़ के बैठ गया।
सत्य कुमार प्रेमी
चॉंद और सूरज
चॉंद और सूरज
Ravi Ghayal
अब समन्दर को सुखाना चाहते हैं लोग
अब समन्दर को सुखाना चाहते हैं लोग
Shivkumar Bilagrami
सपनों का शहर
सपनों का शहर
Shekhar Chandra Mitra
चुगलखोरी एक मानसिक संक्रामक रोग है।
चुगलखोरी एक मानसिक संक्रामक रोग है।
विमला महरिया मौज
वक्त रहते सम्हल जाओ ।
वक्त रहते सम्हल जाओ ।
Nishant prakhar
जान का नया बवाल
जान का नया बवाल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
शान्त सा जीवन
शान्त सा जीवन
Dr fauzia Naseem shad
नारी हूँ मैं
नारी हूँ मैं
Kamal Deependra Singh
Loading...