Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Apr 2023 · 1 min read

Laghukatha :-Kindness

Laghukatha :-Kindness

In the vegetable market, a poor widow used to sell vegetables, but a very few people would buy from her, may be because , her appearance was not attractive also she would sell them at a higher rate.
But I deliberately would often buy expensive vegetables from her thinking of her as a widow, also I felt pity on her condition as to how that lady was able to manage things being all alone. My act may not be so impressive and may be not sufficient enough for her livelihood.
But as per one of the proverb, ‘Something is better than nothing’ inspired me and honestly speaking it gave me a lot of self-satisfaction despite of all her conditions.
***
©-Rajeev Namdeo ‘Rana Lidhori’,
Editor- Akanksha magzeen
tikamgarh (mp) India
Mobile-9893520965

1 Like · 409 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
View all
You may also like:
आसाँ नहीं है - अंत के सच को बस यूँ ही मान लेना
आसाँ नहीं है - अंत के सच को बस यूँ ही मान लेना
Atul "Krishn"
हरियाणा में हो गया
हरियाणा में हो गया
*प्रणय प्रभात*
हर बार नहीं मनाना चाहिए महबूब को
हर बार नहीं मनाना चाहिए महबूब को
शेखर सिंह
फितरत
फितरत
Mukesh Kumar Sonkar
नेता जी शोध लेख
नेता जी शोध लेख
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सेंगोल की जुबानी आपबिती कहानी ?🌅🇮🇳🕊️💙
सेंगोल की जुबानी आपबिती कहानी ?🌅🇮🇳🕊️💙
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अरमान
अरमान
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
चिट्ठी   तेरे   नाम   की, पढ लेना करतार।
चिट्ठी तेरे नाम की, पढ लेना करतार।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
जहर    ना   इतना  घोलिए
जहर ना इतना घोलिए
Paras Nath Jha
पत्थर की अभिलाषा
पत्थर की अभिलाषा
Shyam Sundar Subramanian
ख्वाब हो गए हैं वो दिन
ख्वाब हो गए हैं वो दिन
shabina. Naaz
मन की बात न कहें, तो मन नहीं मानता
मन की बात न कहें, तो मन नहीं मानता
Meera Thakur
वो इश्क़ अपना छुपा रहा था
वो इश्क़ अपना छुपा रहा था
Monika Arora
पति की खुशी ,लंबी उम्र ,स्वास्थ्य के लिए,
पति की खुशी ,लंबी उम्र ,स्वास्थ्य के लिए,
ओनिका सेतिया 'अनु '
जीवन के लक्ष्य,
जीवन के लक्ष्य,
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
"मन क्यों मौन?"
Dr. Kishan tandon kranti
बहुत से लोग तो तस्वीरों में ही उलझ जाते हैं ,उन्हें कहाँ होश
बहुत से लोग तो तस्वीरों में ही उलझ जाते हैं ,उन्हें कहाँ होश
DrLakshman Jha Parimal
दिल में भी
दिल में भी
Dr fauzia Naseem shad
करतलमें अनुबंध है,भटक गए संबंध।
करतलमें अनुबंध है,भटक गए संबंध।
Kaushal Kishor Bhatt
Raksha Bandhan
Raksha Bandhan
Sidhartha Mishra
सफर अंजान राही नादान
सफर अंजान राही नादान
VINOD CHAUHAN
प्रहार-2
प्रहार-2
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
King of the 90s - Television
King of the 90s - Television
Bindesh kumar jha
जीवन में सबसे मूल्यवान अगर मेरे लिए कुछ है तो वह है मेरा आत्
जीवन में सबसे मूल्यवान अगर मेरे लिए कुछ है तो वह है मेरा आत्
Dr Tabassum Jahan
मेरी रातों की नींद क्यों चुराते हो
मेरी रातों की नींद क्यों चुराते हो
Ram Krishan Rastogi
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
Dr.Khedu Bharti
समूचे साल में मदमस्त, सबसे मास सावन है (मुक्तक)
समूचे साल में मदमस्त, सबसे मास सावन है (मुक्तक)
Ravi Prakash
"" *तथता* "" ( महात्मा बुद्ध )
सुनीलानंद महंत
क्षमा देव तुम धीर वरुण हो......
क्षमा देव तुम धीर वरुण हो......
Santosh Soni
न‌ वो बेवफ़ा, न हम बेवफ़ा-
न‌ वो बेवफ़ा, न हम बेवफ़ा-
Shreedhar
Loading...