Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Sep 2016 · 1 min read

कविता

नज़म
प्यारे बच्चे

अल्लाह को मे सजदा करूंगा
सुबह शाम माँ-बाप के लिए दुआ करूँगा

आधी – तुफानो से ना मे डरूंगा
मुश्किल – परेशानी का मुकाबला करूँगा

मशजिद मे जा जा के कलमा पडूंगा
कुरान मजीद को मे याद करूँगां

अड़ोस – पड़ोस मे मोहब्बत फेलाऊगां
इस्लाम को सब के दिल मे बसाऊंग़ा

अशरफ लोगो को उचाई पे ले जाऊंगा
बेताबी का आलम में बंद करूँगा

इताअत करने वालो की खुवाईश पूरी करूँगा
उस्ताद की हमेशा मे सेवा करूँगा

इकराम गली – मुहल्ले मे सब का करूँगा
ज़िद दी लोगो को घर जाके मनाऊंगा

किसी को कभी गलत रास्ता न दिखाउगा
सब को सही नेक राह पे चलाऊगां

गरीब आदमी को छोटा ना समझुगां
सब को बराबर में हक़ दूगां

लड़ाई – झगड़ा में ख़त्म करूगां
इन्सान को प्यार करना सीखाऊगां

आपस में भेद भाव ना करुगां
घर में सब से प्यार करुगां

इंसानियत को आगे बड़ाऊगां
गलत आदमी को में रूकोगां

पुरे देश को गीयानी बनाऊगां
इल्म में हर घर में ले जाऊगां

राजा कुमार
09810190869
RAJAKUMAR869@YAHOO.COM

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Comment · 288 Views
You may also like:
कोई नई ना बात है।
Dushyant Kumar
नया पड़ाव।
Kanchan sarda Malu
कविता
Mahendra Narayan
स्वप्न पखेरू
Saraswati Bajpai
सुन री पवन।
Taj Mohammad
चंद्र शीतल आ गया बिखरी गगन में चाँदनी।
लक्ष्मी सिंह
#छंद के लक्षण एवं प्रकार
आर.एस. 'प्रीतम'
✍️खुशगंवार जिंदगी जीना है✍️
'अशांत' शेखर
हमसे न अब करो
Dr fauzia Naseem shad
पराई
Seema 'Tu hai na'
*मैं तो बुआ बड़ी (गीत)*
Ravi Prakash
मिट्टी की कीमत
निकेश कुमार ठाकुर
दुखो की नैया
AMRESH KUMAR VERMA
विश्वास मुझ पर अब
gurudeenverma198
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
तुम गैर कबसे हो गए ?...
ओनिका सेतिया 'अनु '
नेता और मुहावरा
सूर्यकांत द्विवेदी
तुम्हीं तो हो ,तुम्हीं हो
Dr.sima
"अरे ओ मानव"
Dr Meenu Poonia
'देवरापल्ली प्रकाश राव'
Godambari Negi
मेरा बचपन
Alok Vaid Azad
-पहले आत्मसम्मान फिर सबका सम्मान
Seema gupta ( bloger) Gupta
हर घर तिरंगा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
इंसानो की यह कैसी तरक्की
Anamika Singh
करवा चौथ
Manoj Tanan
फिर भी नदियां बहती है
जगदीश लववंशी
He is " Lord " of every things
Ram Ishwar Bharati
श्रमिक जो हूँ मैं तो...
मनोज कर्ण
यादें
kausikigupta315
ऋतुराज का हुआ शुभारंभ
Vishnu Prasad 'panchotiya'
Loading...