Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 May 2024 · 1 min read

*Hey You*

Dr Arun Kumar Shastri – ek abodh balak – arun atript

title – Hey You

Hey innocent bubbling energy
lets share company for a while.
Thereafter no condition you are free.
Stay hydrated with me,
don’t let the soaring anxiety
raise temperatures within
dampen your spirits!
Get a nominal instant recharge
or a sample unconditional
discount on your first date.
Stay hydrated with me,
hey hey hey you ! Hurry.
Grab this offer hurry.
Its valid only for you.
For a limited period till
the a new !party! h h h hey you.
Stay hydrated with me.
Don’t let the soaring anxiety
raise temperatures within
dampen your spirits!
Make your mood splits in drops
of sweating then itching then rashes
on your soft soft skin be.
Stay hydrated with me.
Hey innocent bubbling energy.
Lets share company for a while
thereafter no condition you are free.
Do not calculate purpose in this offer.
It is just for fun, in our age, what is more demanding.
We wish to live each moment.
And why not it is blessings of the Lord.
Being showered, let us have a deep dip.
Hey innocent bubbling energy
lets share company for a while.
Thereafter no condition you are free.
Stay hydrated with me.

25 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
यहां ज्यादा की जरूरत नहीं
यहां ज्यादा की जरूरत नहीं
Swami Ganganiya
याद रहेगा यह दौर मुझको
याद रहेगा यह दौर मुझको
Ranjeet kumar patre
24/232. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/232. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हिदायत
हिदायत
Bodhisatva kastooriya
सपने
सपने
Santosh Shrivastava
16---🌸हताशा 🌸
16---🌸हताशा 🌸
Mahima shukla
गोवर्धन गिरधारी, प्रभु रक्षा करो हमारी।
गोवर्धन गिरधारी, प्रभु रक्षा करो हमारी।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
खोते जा रहे हैं ।
खोते जा रहे हैं ।
Dr.sima
याद आते हैं
याद आते हैं
Chunnu Lal Gupta
"आओ हम सब मिल कर गाएँ भारत माँ के गान"
Lohit Tamta
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-139 शब्द-दांद
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-139 शब्द-दांद
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
संकल्प
संकल्प
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मुक्तक
मुक्तक
Neelofar Khan
वफ़ा और बेवफाई
वफ़ा और बेवफाई
हिमांशु Kulshrestha
*पदयात्रा का मतलब (हास्य व्यंग्य)*
*पदयात्रा का मतलब (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
52.....रज्ज़ मुसम्मन मतवी मख़बोन
52.....रज्ज़ मुसम्मन मतवी मख़बोन
sushil yadav
🙅पहचान🙅
🙅पहचान🙅
*प्रणय प्रभात*
ऐ ज़िंदगी।
ऐ ज़िंदगी।
Taj Mohammad
नारी पुरुष
नारी पुरुष
Neeraj Agarwal
उसे पता है मुझे तैरना नहीं आता,
उसे पता है मुझे तैरना नहीं आता,
Vishal babu (vishu)
दाल गली खिचड़ी पकी,देख समय का  खेल।
दाल गली खिचड़ी पकी,देख समय का खेल।
Manoj Mahato
"साँसों के मांझी"
Dr. Kishan tandon kranti
मोहब्बत ना-समझ होती है समझाना ज़रूरी है
मोहब्बत ना-समझ होती है समझाना ज़रूरी है
Rituraj shivem verma
Learn the things with dedication, so that you can adjust wel
Learn the things with dedication, so that you can adjust wel
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
गम के दिनों में साथ कोई भी खड़ा न था।
गम के दिनों में साथ कोई भी खड़ा न था।
सत्य कुमार प्रेमी
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
Shubham Pandey (S P)
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
Anil Mishra Prahari
उफ्फ्फ
उफ्फ्फ
Atul "Krishn"
जब मरहम हीं ज़ख्मों की सजा दे जाए, मुस्कराहट आंसुओं की सदा दे जाए।
जब मरहम हीं ज़ख्मों की सजा दे जाए, मुस्कराहट आंसुओं की सदा दे जाए।
Manisha Manjari
ओस की बूंद
ओस की बूंद
RAKESH RAKESH
Loading...