Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Dec 2023 · 1 min read

Bundeli Doha-Anmane

बुंदेली दोहे- अनमने (उदास )*
1
#राना रत जौ अनमने , कितउँ आत ना जात |
कौनउँ नौनों काम भी , उनखौं नँईं पुसात ||
2
सब पाकैं भी अनमने, जौ मुख खौं लटकात |
#राना उनकी सब कथा , भिनकी-भिनकी रात ||
3
राम कथा‌ में अनमने , राना जिनकै भाव |
उनकै जीवन में सदा , औंदै परतइ दाव ||
***
✍️ राजीव नामदेव “राना लिधौरी” टीकमगढ़*
संपादक “आकांक्षा” पत्रिका
संपादक- ‘अनुश्रुति’ त्रैमासिक बुंदेली ई पत्रिका
जिलाध्यक्ष म.प्र. लेखक संघ टीकमगढ़
अध्यक्ष वनमाली सृजन केन्द्र टीकमगढ़
नई चर्च के पीछे, शिवनगर कालोनी,
टीकमगढ़ (मप्र)-472001
मोबाइल- 9893520965
Email – ranalidhori@gmail.com

1 Like · 84 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"सोच अपनी अपनी"
Dr Meenu Poonia
" सब भाषा को प्यार करो "
DrLakshman Jha Parimal
दोहे- उड़ान
दोहे- उड़ान
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पीकर भंग जालिम खाई के पान,
पीकर भंग जालिम खाई के पान,
डी. के. निवातिया
बिन सूरज महानगर
बिन सूरज महानगर
Lalit Singh thakur
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
Ms.Ankit Halke jha
🫴झन जाबे🫴
🫴झन जाबे🫴
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
*सेवानिवृत्ति*
*सेवानिवृत्ति*
पंकज कुमार कर्ण
💐प्रेम कौतुक-342💐
💐प्रेम कौतुक-342💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
" बंदिशें ज़ेल की "
Chunnu Lal Gupta
हिंदी
हिंदी
Pt. Brajesh Kumar Nayak
■
■ "शिक्षा" और "दीक्षा" का अंतर भी समझ लो महाप्रभुओं!!
*Author प्रणय प्रभात*
गाँव सहर मे कोन तीत कोन मीठ! / MUSAFIR BAITHA
गाँव सहर मे कोन तीत कोन मीठ! / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
हमारी आखिरी उम्मीद हम खुद है,
हमारी आखिरी उम्मीद हम खुद है,
शेखर सिंह
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
Sanjay ' शून्य'
प्यार ना होते हुए भी प्यार हो ही जाता हैं
प्यार ना होते हुए भी प्यार हो ही जाता हैं
Jitendra Chhonkar
Pain changes people
Pain changes people
Vandana maurya
इकांत बहुत प्यारी चीज़ है ये आपको उससे मिलती है जिससे सच में
इकांत बहुत प्यारी चीज़ है ये आपको उससे मिलती है जिससे सच में
पूर्वार्थ
बीते साल को भूल जाए
बीते साल को भूल जाए
Ranjeet kumar patre
गुरु मेरा मान अभिमान है
गुरु मेरा मान अभिमान है
Harminder Kaur
शुभ प्रभात मित्रो !
शुभ प्रभात मित्रो !
Mahesh Jain 'Jyoti'
झूठ बोलते हैं वो,जो कहते हैं,
झूठ बोलते हैं वो,जो कहते हैं,
Dr. Man Mohan Krishna
2464.पूर्णिका
2464.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
दिल लगाएं भगवान में
दिल लगाएं भगवान में
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*
*"माँ"*
Shashi kala vyas
जिंदगी
जिंदगी
Madhavi Srivastava
सुहासिनी की शादी
सुहासिनी की शादी
विजय कुमार अग्रवाल
ज़िंदगी का सवाल
ज़िंदगी का सवाल
Dr fauzia Naseem shad
गुजरते लम्हों से कुछ पल तुम्हारे लिए चुरा लिए हमने,
गुजरते लम्हों से कुछ पल तुम्हारे लिए चुरा लिए हमने,
Hanuman Ramawat
मोहे हिंदी भाये
मोहे हिंदी भाये
Satish Srijan
Loading...