Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Nov 2022 · 1 min read

Book of the day: महादेवी के गद्य साहित्य का अध्ययन

Book of the day: महादेवी के गद्य साहित्य का अध्ययन

डा. शैलजा सिन्हा जी ने इस शोध ग्रन्थ में, छायावाद की प्रसिद्ध कवयित्री एवम् समर्थ गद्य-लेखिका, महादेवी वर्मा जी की गद्य रचनाओं का विस्तृत विवेचन किया है।

Read here: https://sahityapedia.com/?p=170271

4 Likes · 140 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
छल ......
छल ......
sushil sarna
//एहसास//
//एहसास//
AVINASH (Avi...) MEHRA
वो सारी खुशियां एक तरफ लेकिन तुम्हारे जाने का गम एक तरफ लेकि
वो सारी खुशियां एक तरफ लेकिन तुम्हारे जाने का गम एक तरफ लेकि
★ IPS KAMAL THAKUR ★
कोई भोली समझता है
कोई भोली समझता है
VINOD CHAUHAN
स्वर्णिम दौर
स्वर्णिम दौर
Dr. Kishan tandon kranti
चंद अशआर
चंद अशआर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
भाषा
भाषा
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
रिश्ता ऐसा हो,
रिश्ता ऐसा हो,
लक्ष्मी सिंह
# महुआ के फूल ......
# महुआ के फूल ......
Chinta netam " मन "
मत गुजरा करो शहर की पगडंडियों से बेखौफ
मत गुजरा करो शहर की पगडंडियों से बेखौफ
Damini Narayan Singh
'हक़' और हाकिम
'हक़' और हाकिम
आनन्द मिश्र
सौंदर्य छटा🙏
सौंदर्य छटा🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
हंस
हंस
Dr. Seema Varma
"सुखी हुई पत्ती"
Pushpraj Anant
हृदय में धड़कन सा बस जाये मित्र वही है
हृदय में धड़कन सा बस जाये मित्र वही है
Er. Sanjay Shrivastava
लोकतंत्र
लोकतंत्र
Sandeep Pande
शमा से...!!!
शमा से...!!!
Kanchan Khanna
संतोष भले ही धन हो, एक मूल्य हो, मगर यह ’हारे को हरि नाम’ की
संतोष भले ही धन हो, एक मूल्य हो, मगर यह ’हारे को हरि नाम’ की
Dr MusafiR BaithA
*मैं बच्चों की तरह हर रोज, सारे काम करता हूँ (हिंदी गजल/गीति
*मैं बच्चों की तरह हर रोज, सारे काम करता हूँ (हिंदी गजल/गीति
Ravi Prakash
■ आज का मुक्तक...
■ आज का मुक्तक...
*Author प्रणय प्रभात*
2912.*पूर्णिका*
2912.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
प्रेम भरी नफरत
प्रेम भरी नफरत
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
❤बिना मतलब के जो बात करते है
❤बिना मतलब के जो बात करते है
Satyaveer vaishnav
सुप्रभात
सुप्रभात
डॉक्टर रागिनी
कर्मठ व्यक्ति की सहनशीलता ही धैर्य है, उसके द्वारा किया क्षम
कर्मठ व्यक्ति की सहनशीलता ही धैर्य है, उसके द्वारा किया क्षम
Sanjay ' शून्य'
मची हुई संसार में,न्यू ईयर की धूम
मची हुई संसार में,न्यू ईयर की धूम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" क़ैदी विचाराधीन हूँ "
Chunnu Lal Gupta
The Journey of this heartbeat.
The Journey of this heartbeat.
Manisha Manjari
संगीत................... जीवन है
संगीत................... जीवन है
Neeraj Agarwal
*भव-पालक की प्यारी गैय्या कलियुग में लाचार*
*भव-पालक की प्यारी गैय्या कलियुग में लाचार*
Poonam Matia
Loading...