Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 May 2024 · 1 min read

3460🌷 *पूर्णिका* 🌷

3460🌷 पूर्णिका 🌷
हर खुशियांँ यूं देने की तमन्ना है
22 22 22 22 22
हर खुशियाँ यूं देने की तमन्ना है ।
बाहों में भर लेने की तमन्ना है ।।
साथ फिजाओं में बहती है चाहत।
जीवन कश्तियाँ खेने की तमन्ना है।।
दीवाना कहता कोई पागल भी।
हो धार यहाँ टेने की तमन्ना है ।।
बस मिट जाए इस दुनिया से नफरत।
मन में मुहब्बत सेने की तमन्ना है ।।
सुंदर सूरत सीरत साथी खेदू।
सौगातें सहजेने की तमन्ना है ।।

…………✍ डॉ .खेदू भारती “सत्येश “
15-05-2024 बुधवार

21 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
समय
समय
Neeraj Agarwal
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*छोड़ा पीछे इंडिया, चले गए अंग्रेज (कुंडलिया)*
*छोड़ा पीछे इंडिया, चले गए अंग्रेज (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
किताबों वाले दिन
किताबों वाले दिन
Kanchan Khanna
मैं कहना भी चाहूं उनसे तो कह नहीं सकता
मैं कहना भी चाहूं उनसे तो कह नहीं सकता
Mr.Aksharjeet
तुम्हारा जिक्र
तुम्हारा जिक्र
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
“ज़िंदगी अगर किताब होती”
“ज़िंदगी अगर किताब होती”
पंकज कुमार कर्ण
एहसास
एहसास
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
अहंकार
अहंकार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ऋतुराज (घनाक्षरी )
ऋतुराज (घनाक्षरी )
डॉक्टर रागिनी
कहीं साथी हमें पथ में
कहीं साथी हमें पथ में
surenderpal vaidya
हर इक सैलाब से खुद को बचाकर
हर इक सैलाब से खुद को बचाकर
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
टन टन बजेगी घंटी
टन टन बजेगी घंटी
SHAMA PARVEEN
नारी के कौशल से कोई क्षेत्र न बचा अछूता।
नारी के कौशल से कोई क्षेत्र न बचा अछूता।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
#त्वरित_टिप्पणी
#त्वरित_टिप्पणी
*Author प्रणय प्रभात*
*A date with my crush*
*A date with my crush*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्यार इस कदर है तुमसे बतायें कैसें।
प्यार इस कदर है तुमसे बतायें कैसें।
Yogendra Chaturwedi
"लेखनी"
Dr. Kishan tandon kranti
यह तुम्हारी गलतफहमी है
यह तुम्हारी गलतफहमी है
gurudeenverma198
चेहरे की शिकन देख कर लग रहा है तुम्हारी,,,
चेहरे की शिकन देख कर लग रहा है तुम्हारी,,,
शेखर सिंह
मैं कौन हूँ
मैं कौन हूँ
Sukoon
आप क्या ज़िंदगी को
आप क्या ज़िंदगी को
Dr fauzia Naseem shad
मगरूर क्यों हैं
मगरूर क्यों हैं
Mamta Rani
हिंदी
हिंदी
Pt. Brajesh Kumar Nayak
धमकियाँ देना काम है उनका,
धमकियाँ देना काम है उनका,
Dr. Man Mohan Krishna
2360.पूर्णिका
2360.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
प्रथम नमन मात पिता ने, गौरी सुत गजानन काव्य में बैगा पधारजो
प्रथम नमन मात पिता ने, गौरी सुत गजानन काव्य में बैगा पधारजो
Anil chobisa
वक्त यदि गुजर जाए तो 🧭
वक्त यदि गुजर जाए तो 🧭
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
छत्तीसगढ़िया संस्कृति के चिन्हारी- हरेली तिहार
छत्तीसगढ़िया संस्कृति के चिन्हारी- हरेली तिहार
Mukesh Kumar Sonkar
अन्तर्मन
अन्तर्मन
Dr. Upasana Pandey
Loading...