Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Mar 2024 · 1 min read

3080.*पूर्णिका*

3080.*पूर्णिका*
🌷 जिंदगी की कहानी क्या🌷
212 212 22
जिंदगी की कहानी क्या।
खूबसूरत जवानी क्या।।
भटकते राह चलते हम ।
बोल क्या ये जुबानी क्या ।।
पाक ये है नहीं दामन ।
देशहित भी कुर्बानी क्या।।
लोग मरते यहाँ देखो ।
दांव पर सब लगानी क्या।।
प्यास बुझते जहाँ खेदू।
मांगते रोज पानी क्या।।
………..✍ डॉ .खेदू भारती”सत्येश”
05-03-2024मंगलवार

62 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कामयाबी का नशा
कामयाबी का नशा
SHAMA PARVEEN
3324.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3324.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
बेटियां
बेटियां
Madhavi Srivastava
पीर पराई
पीर पराई
Satish Srijan
शिशुपाल वध
शिशुपाल वध
SHAILESH MOHAN
वृक्ष बड़े उपकारी होते हैं,
वृक्ष बड़े उपकारी होते हैं,
अनूप अम्बर
"सिलसिला"
Dr. Kishan tandon kranti
Ignorance is the best way to hurt someone .
Ignorance is the best way to hurt someone .
Sakshi Tripathi
एक इश्क में डूबी हुई लड़की कभी भी अपने आशिक दीवाने लड़के को
एक इश्क में डूबी हुई लड़की कभी भी अपने आशिक दीवाने लड़के को
Rj Anand Prajapati
मूर्ती माँ तू ममता की
मूर्ती माँ तू ममता की
Basant Bhagawan Roy
ख्वाब देखा है हसीन__ मरने न देंगे।
ख्वाब देखा है हसीन__ मरने न देंगे।
Rajesh vyas
(17) यह शब्दों का अनन्त, असीम महासागर !
(17) यह शब्दों का अनन्त, असीम महासागर !
Kishore Nigam
Dr arun कुमार शास्त्री
Dr arun कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आँगन पट गए (गीतिका )
आँगन पट गए (गीतिका )
Ravi Prakash
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
मोहब्बत का वो तोहफ़ा मैंने संभाल कर रखा है
मोहब्बत का वो तोहफ़ा मैंने संभाल कर रखा है
Rekha khichi
@व्हाट्सअप/फेसबुक यूँनीवर्सिटी 😊😊
@व्हाट्सअप/फेसबुक यूँनीवर्सिटी 😊😊
*Author प्रणय प्रभात*
चांदनी रात
चांदनी रात
Mahender Singh
दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं
दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नंद के घर आयो लाल
नंद के घर आयो लाल
Kavita Chouhan
मेरे भाव मेरे भगवन
मेरे भाव मेरे भगवन
Dr.sima
यहाँ सब काम हो जाते सही तदबीर जानो तो
यहाँ सब काम हो जाते सही तदबीर जानो तो
आर.एस. 'प्रीतम'
जब तुम उसको नहीं पसन्द तो
जब तुम उसको नहीं पसन्द तो
gurudeenverma198
ख़्वाब सजाना नहीं है।
ख़्वाब सजाना नहीं है।
अनिल "आदर्श"
काल का स्वरूप🙏
काल का स्वरूप🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Peace peace
Peace peace
Poonam Sharma
हम रहें आजाद
हम रहें आजाद
surenderpal vaidya
*वकीलों की वकीलगिरी*
*वकीलों की वकीलगिरी*
Dushyant Kumar
इंद्रधनुष
इंद्रधनुष
Harish Chandra Pande
दोस्ती को परखे, अपने प्यार को समजे।
दोस्ती को परखे, अपने प्यार को समजे।
Anil chobisa
Loading...