Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jun 2023 · 1 min read

10-भुलाकर जात-मज़हब आओ हम इंसान बन जाएँ

उदासी से भरे चहरों की हम मुस्कान बन जाएँ
घृणा के दौर में भी प्रेम की पहचान बन जाएँ
हमारे देश की मिट्टी किसी से भेद कब की है
भुलाकर जात-मज़हब आओ हम इंसान बन जाएँ
~अजय कुमार ‘विमल’

Language: Hindi
132 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आवारगी मिली
आवारगी मिली
Satish Srijan
22)”शुभ नवरात्रि”
22)”शुभ नवरात्रि”
Sapna Arora
*बदलना और मिटना*
*बदलना और मिटना*
Sûrëkhâ Rãthí
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
shabina. Naaz
जब तुम्हारे भीतर सुख के लिए जगह नही होती है तो
जब तुम्हारे भीतर सुख के लिए जगह नही होती है तो
Aarti sirsat
मिलेंगे कल जब हम तुम
मिलेंगे कल जब हम तुम
gurudeenverma198
*एकता (बाल कविता)*
*एकता (बाल कविता)*
Ravi Prakash
तुम्हें अकेले चलना होगा
तुम्हें अकेले चलना होगा
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
ये
ये "परवाह" शब्द वो संजीवनी बूटी है
शेखर सिंह
यादें...
यादें...
Harminder Kaur
मन बहुत चंचल हुआ करता मगर।
मन बहुत चंचल हुआ करता मगर।
surenderpal vaidya
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
फितरत
फितरत
Mamta Rani
जिंदगी और उलझनें, सॅंग सॅंग चलेंगी दोस्तों।
जिंदगी और उलझनें, सॅंग सॅंग चलेंगी दोस्तों।
सत्य कुमार प्रेमी
प्यासा के राम
प्यासा के राम
Vijay kumar Pandey
।।अथ श्री सत्यनारायण कथा चतुर्थ अध्याय।।
।।अथ श्री सत्यनारायण कथा चतुर्थ अध्याय।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जब मैं तुमसे प्रश्न करूँगा
जब मैं तुमसे प्रश्न करूँगा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
मित्र भाग्य बन जाता है,
मित्र भाग्य बन जाता है,
Buddha Prakash
" कविता और प्रियतमा
DrLakshman Jha Parimal
🙅मेरे विचार से🙅
🙅मेरे विचार से🙅
*Author प्रणय प्रभात*
कुण्डल / उड़ियाना छंद
कुण्डल / उड़ियाना छंद
Subhash Singhai
हम तुम्हारे साथ हैं
हम तुम्हारे साथ हैं
विक्रम कुमार
क्या ये गलत है ?
क्या ये गलत है ?
Rakesh Bahanwal
वक्त की रेत
वक्त की रेत
Dr. Kishan tandon kranti
टॉम एंड जेरी
टॉम एंड जेरी
Vedha Singh
तोंदू भाई, तोंदू भाई..!!
तोंदू भाई, तोंदू भाई..!!
Kanchan Khanna
2322.पूर्णिका
2322.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
భారత దేశ వీరుల్లారా
భారత దేశ వీరుల్లారా
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
निराशा एक आशा
निराशा एक आशा
डॉ. शिव लहरी
डर-डर से जिंदगी यूं ही खत्म हो जाएगी एक दिन,
डर-डर से जिंदगी यूं ही खत्म हो जाएगी एक दिन,
manjula chauhan
Loading...