Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Nov 2023 · 1 min read

2666.*पूर्णिका*

2666.*पूर्णिका*
हरदम साथ निभाते रहे
22 22 2212
🌹⚘⚘⚘⚘🌷🌷🌷
हरदम साथ निभाते रहे ।
करवा चौथ मनाते रहे।।
सात जन्मों का बंधन प्रिये ।
खुशियाँ हम बरसाते रहे।।
दुनिया अपनी प्यारी यहाँ ।
अपना चांद मुस्काते रहे।।
अपनी धरती अपना गगन ।
घर आँगन महकाते रहे।।
हमसाया सा खेदू जहाँ ।
प्यारा चमन सजाते रहे।।
………..✍डॉ .खेदू भारती “सत्येश”
01-11-23 बुधवार

156 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
सरपरस्त
सरपरस्त
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
जवानी के दिन
जवानी के दिन
Sandeep Pande
सदा दूर रहो गम की परछाइयों से,
सदा दूर रहो गम की परछाइयों से,
Ranjeet kumar patre
दिल का रोग
दिल का रोग
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कब तक कौन रहेगा साथी
कब तक कौन रहेगा साथी
Ramswaroop Dinkar
5 हिन्दी दोहा बिषय- विकार
5 हिन्दी दोहा बिषय- विकार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ଅର୍ଦ୍ଧାଧିକ ଜୀବନର ଚିତ୍ର
ଅର୍ଦ୍ଧାଧିକ ଜୀବନର ଚିତ୍ର
Bidyadhar Mantry
चार दिन की जिंदगी मे किस कतरा के चलु
चार दिन की जिंदगी मे किस कतरा के चलु
Sampada
पतझड़ के मौसम हो तो पेड़ों को संभलना पड़ता है
पतझड़ के मौसम हो तो पेड़ों को संभलना पड़ता है
कवि दीपक बवेजा
సంస్థ అంటే సేవ
సంస్థ అంటే సేవ
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
ग़ज़ल - कह न पाया आदतन तो और कुछ - संदीप ठाकुर
ग़ज़ल - कह न पाया आदतन तो और कुछ - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
3318.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3318.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
कविता : नारी
कविता : नारी
Sushila joshi
■ eye opener...
■ eye opener...
*Author प्रणय प्रभात*
जाति बनाने वालों काहे बनाई तुमने जाति ?
जाति बनाने वालों काहे बनाई तुमने जाति ?
शेखर सिंह
रहना चाहें स्वस्थ तो , खाएँ प्रतिदिन सेब(कुंडलिया)
रहना चाहें स्वस्थ तो , खाएँ प्रतिदिन सेब(कुंडलिया)
Ravi Prakash
राष्ट्रीय किसान दिवस
राष्ट्रीय किसान दिवस
Akash Yadav
सलाह .... लघुकथा
सलाह .... लघुकथा
sushil sarna
काव्य भावना
काव्य भावना
Shyam Sundar Subramanian
पुनीत /लीला (गोपी) / गुपाल छंद (सउदाहरण)
पुनीत /लीला (गोपी) / गुपाल छंद (सउदाहरण)
Subhash Singhai
गंदा धंधा
गंदा धंधा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
"कुछ रास्ते"
Dr. Kishan tandon kranti
दगा बाज़ आसूं
दगा बाज़ आसूं
Surya Barman
हो मेहनत सच्चे दिल से,अक्सर परिणाम बदल जाते हैं
हो मेहनत सच्चे दिल से,अक्सर परिणाम बदल जाते हैं
पूर्वार्थ
हे ! अम्बुज राज (कविता)
हे ! अम्बुज राज (कविता)
Indu Singh
बहुत देखें हैं..
बहुत देखें हैं..
Srishty Bansal
Irritable Bowel Syndrome
Irritable Bowel Syndrome
Tushar Jagawat
मोहब्बत का मेरी, उसने यूं भरोसा कर लिया।
मोहब्बत का मेरी, उसने यूं भरोसा कर लिया।
इ. प्रेम नवोदयन
शिव छन्द
शिव छन्द
Neelam Sharma
Loading...