Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Apr 2024 · 1 min read

विजेता सूची- “सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता

“सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें- “सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता

“सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता में बहुत सुंदर रचनाएँ प्राप्त हुईं। विजेताओं का चुनाव करना बेहद कठिन रहा।

“सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता के विजेताओं की सूची इस प्रकार है-

सभी विजेताओं को डा. बी. आर. गुप्ता जी द्वारा साइन की गयी उनकी पुस्तक सत्य की खोज की प्रति भेंट की जाएगी। उसके लिए विजेताओं से ईमेल द्वारा संपर्क किया जायेगा।

डिजिटल सर्टिफिकेट विजेताओं की साहित्यपीडिया प्रोफ़ाइल में "Certificates" सेक्शन में कुछ दिनों में दिखाई देने लगेंगे।

Category: Blog
20 Likes · 11 Comments · 471 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
* अपना निलय मयखाना हुआ *
* अपना निलय मयखाना हुआ *
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
बस यूँ ही...
बस यूँ ही...
Neelam Sharma
काल भैरव की उत्पत्ति के पीछे एक पौराणिक कथा भी मिलती है. कहा
काल भैरव की उत्पत्ति के पीछे एक पौराणिक कथा भी मिलती है. कहा
Shashi kala vyas
.*यादों के पन्ने.......
.*यादों के पन्ने.......
Naushaba Suriya
2285.
2285.
Dr.Khedu Bharti
बादलों पर घर बनाया है किसी ने...
बादलों पर घर बनाया है किसी ने...
डॉ.सीमा अग्रवाल
आज का रावण
आज का रावण
Sanjay ' शून्य'
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जख्म भी रूठ गया है अबतो
जख्म भी रूठ गया है अबतो
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हे परम पिता !
हे परम पिता !
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
वक्त  क्या  बिगड़ा तो लोग बुराई में जा लगे।
वक्त क्या बिगड़ा तो लोग बुराई में जा लगे।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
रंजीत शुक्ल
रंजीत शुक्ल
Ranjeet Kumar Shukla
गौरवशाली भारत
गौरवशाली भारत
Shaily
🥀 * गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 * गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मैं मगर अपनी जिंदगी को, ऐसे जीता रहा
मैं मगर अपनी जिंदगी को, ऐसे जीता रहा
gurudeenverma198
ताजन हजार
ताजन हजार
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
गणतंत्र दिवस की बधाई।।
गणतंत्र दिवस की बधाई।।
Rajni kapoor
इंसान को इतना पाखंड भी नहीं करना चाहिए कि आने वाली पीढ़ी उसे
इंसान को इतना पाखंड भी नहीं करना चाहिए कि आने वाली पीढ़ी उसे
Jogendar singh
#शेर-
#शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
"आशा" की चौपाइयां
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
"मुशाफिर हूं "
Pushpraj Anant
I know people around me a very much jealous to me but I am h
I know people around me a very much jealous to me but I am h
Ankita Patel
मोर
मोर
Manu Vashistha
विनती
विनती
कविता झा ‘गीत’
वीर-जवान
वीर-जवान
लक्ष्मी सिंह
*विश्वामित्र नमन तुम्हें : कुछ दोहे*
*विश्वामित्र नमन तुम्हें : कुछ दोहे*
Ravi Prakash
बच्चे
बच्चे
Shivkumar Bilagrami
स्त्री का प्रेम ना किसी का गुलाम है और ना रहेगा
स्त्री का प्रेम ना किसी का गुलाम है और ना रहेगा
प्रेमदास वसु सुरेखा
सफलता यूं ही नहीं मिल जाती है।
सफलता यूं ही नहीं मिल जाती है।
नेताम आर सी
"वरना"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...