Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Nov 2023 · 1 min read

🥀*अज्ञानी की कलम*🥀

🥀*अज्ञानी की कलम*🥀
लक्ष्य की ओर बढ़ते कदम,भूल बैठे ज़फा मेरे
हमदम।।
जग में सत्य तलासते हम,झूठी राहों में बढ़ाते
कदम।।
मन के भाये नही भग्रसर होते,पीछे बेवक्त न तुम ग्यर्थ
ही रोते।।
कुधर्मी की हाँ में हाँ न मिलाते,सत्य के पथ पे यूं बढ़ाते कदम।।
का न पावक जल सके, का न समुद्र समाये,दिखलाते
यूं दम।।
का न अबला जन सके,का जग काल न खायें,मिल जाते बलम।।
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
झाँसी उ•प्र•

172 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ईश्वर है
ईश्वर है
साहिल
प्रेम
प्रेम
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
आंखों से अश्क बह चले
आंखों से अश्क बह चले
Shivkumar Bilagrami
किसी भी काम में आपको मुश्किल तब लगती है जब आप किसी समस्या का
किसी भी काम में आपको मुश्किल तब लगती है जब आप किसी समस्या का
Rj Anand Prajapati
मन की किताब
मन की किताब
Neeraj Agarwal
मेरे दिल की गहराई में,
मेरे दिल की गहराई में,
Dr. Man Mohan Krishna
पुण्य स्मरण: 18 जून2008 को मुरादाबाद में आयोजित पारिवारिक सम
पुण्य स्मरण: 18 जून2008 को मुरादाबाद में आयोजित पारिवारिक सम
Ravi Prakash
सोच
सोच
Srishty Bansal
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
शिव प्रताप लोधी
Quote..
Quote..
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
दोहा पंचक. . . . प्रेम
दोहा पंचक. . . . प्रेम
sushil sarna
वक्त
वक्त
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
तमाशबीन जवानी
तमाशबीन जवानी
Shekhar Chandra Mitra
🙏🙏सुप्रभात जय माता दी 🙏🙏
🙏🙏सुप्रभात जय माता दी 🙏🙏
Er.Navaneet R Shandily
खुबिया जानकर चाहना आकर्षण है.
खुबिया जानकर चाहना आकर्षण है.
शेखर सिंह
समय यात्रा संभावना -एक विचार
समय यात्रा संभावना -एक विचार
Shyam Sundar Subramanian
🙅अमोघ-मंत्र🙅
🙅अमोघ-मंत्र🙅
*Author प्रणय प्रभात*
एक बार हीं
एक बार हीं
Shweta Soni
नेताजी (कविता)
नेताजी (कविता)
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
हिंदी क्या है
हिंदी क्या है
Ravi Shukla
❤️एक अबोध बालक ❤️
❤️एक अबोध बालक ❤️
DR ARUN KUMAR SHASTRI
सेंगोल जुवाली आपबीती कहानी🙏🙏
सेंगोल जुवाली आपबीती कहानी🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
ज़िन्दगी
ज़िन्दगी
डॉक्टर रागिनी
मनहरण घनाक्षरी
मनहरण घनाक्षरी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
दिल ये इज़हार कहां करता है
दिल ये इज़हार कहां करता है
Surinder blackpen
पतंग
पतंग
अलका 'भारती'
"नदी की सिसकियाँ"
Dr. Kishan tandon kranti
" हम तो हारे बैठे हैं "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
कहनी चाही कभी जो दिल की बात...
कहनी चाही कभी जो दिल की बात...
Sunil Suman
Loading...