Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jun 2023 · 1 min read

♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️

दौर ए उल्फत में चल रहा सिलसिला बेमानी का।
एन बरसात में जोर क्यों कम होने लगा पानी का।।

आइना तुझे देखता है तू आईने में देखे खुद को।
कमतर कहें किसको अजीब माजरा था हैरानी का।।

नकली नकाब था जो उतरा की शेखी भी उतार गई।
गया ना बल रस्सी का अभी तेग है चढ़ा तुर्यानी का।।

पूछता फिरता है बाबाओं से किस्मत का लिखा अपनी।
बाजू उतार टांग दिए यही सबब था तेरी परेशानी का।।

खुदा की रहमत से हुए हासिल तरक्की ऐ महल औ मकां ।
बुलंद इकबाल रहा तो था असर मां की निगहबानी का।

बुझ गया है चेहरा देखते ही उनका दरवाजे पर आशिक।
मोहब्बत दिल में नहीं उनके तो क्या है मजा मेहमानी का।।
*********************************************
उमेश मेहरा (आशिक)
गाडरवारा ( एम पी)
9479611151

Language: Hindi
1 Like · 440 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
करता नहीं यह शौक तो,बर्बाद मैं नहीं होता
करता नहीं यह शौक तो,बर्बाद मैं नहीं होता
gurudeenverma198
मौहब्बत में किसी के गुलाब का इंतजार मत करना।
मौहब्बत में किसी के गुलाब का इंतजार मत करना।
Phool gufran
*देखो मन में हलचल लेकर*
*देखो मन में हलचल लेकर*
Dr. Priya Gupta
ढलता वक्त
ढलता वक्त
प्रकाश जुयाल 'मुकेश'
तू बस झूम…
तू बस झूम…
Rekha Drolia
वो किताब अब भी जिन्दा है।
वो किताब अब भी जिन्दा है।
दुर्गा प्रसाद नाग
जिंदगी की राह में हर कोई,
जिंदगी की राह में हर कोई,
Yogendra Chaturwedi
सियासत में सारे धर्म-संकट बेचारे
सियासत में सारे धर्म-संकट बेचारे "कटप्पाओं" के लिए होते हैं।
*प्रणय प्रभात*
बड़ा मन करऽता।
बड़ा मन करऽता।
जय लगन कुमार हैप्पी
वहाॅं कभी मत जाईये
वहाॅं कभी मत जाईये
Paras Nath Jha
# 𑒫𑒱𑒔𑒰𑒩
# 𑒫𑒱𑒔𑒰𑒩
DrLakshman Jha Parimal
***कृष्णा ***
***कृष्णा ***
Kavita Chouhan
#justareminderdrarunkumarshastri
#justareminderdrarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
" नेतृत्व के लिए उम्र बड़ी नहीं, बल्कि सोच बड़ी होनी चाहिए"
नेताम आर सी
ताजन हजार
ताजन हजार
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Neelofar Khan
स्वयं में ईश्वर को देखना ध्यान है,
स्वयं में ईश्वर को देखना ध्यान है,
Suneel Pushkarna
याद करेगा कौन फिर, मर जाने के बाद
याद करेगा कौन फिर, मर जाने के बाद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आओ लौट चले
आओ लौट चले
Dr. Mahesh Kumawat
गांधी और गोडसे में तुम लोग किसे चुनोगे?
गांधी और गोडसे में तुम लोग किसे चुनोगे?
Shekhar Chandra Mitra
जीवन रूपी बाग में ,सत्कर्मों के बीज।
जीवन रूपी बाग में ,सत्कर्मों के बीज।
Anamika Tiwari 'annpurna '
जिंदगी बिलकुल चिड़िया घर जैसी हो गई है।
जिंदगी बिलकुल चिड़िया घर जैसी हो गई है।
शेखर सिंह
बेटी को जन्मदिन की बधाई
बेटी को जन्मदिन की बधाई
लक्ष्मी सिंह
जो बैठा है मन के अंदर उस रावण को मारो ना
जो बैठा है मन के अंदर उस रावण को मारो ना
VINOD CHAUHAN
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
वो अपनी जिंदगी में गुनहगार समझती है मुझे ।
शिव प्रताप लोधी
*खाओ जामुन खुश रहो ,कुदरत का वरदान* (कुंडलिया)
*खाओ जामुन खुश रहो ,कुदरत का वरदान* (कुंडलिया)
Ravi Prakash
'बेटी बचाओ-बेटी पढाओ'
'बेटी बचाओ-बेटी पढाओ'
Bodhisatva kastooriya
"स्वस्फूर्त होकर"
Dr. Kishan tandon kranti
नग मंजुल मन मन भावे🌺🪵☘️🍁🪴
नग मंजुल मन मन भावे🌺🪵☘️🍁🪴
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...