Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Aug 2023 · 1 min read

■ शर्म भी कर लो।

■ शर्म भी कर लो।

1 Like · 102 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कुछ उत्तम विचार.............
कुछ उत्तम विचार.............
विमला महरिया मौज
छेड़ता है मुझको यशोदा मैया
छेड़ता है मुझको यशोदा मैया
gurudeenverma198
*हमारे बीच फिर बातें, न जाने कल को होंं न हों (हिंदी गजल/ गी
*हमारे बीच फिर बातें, न जाने कल को होंं न हों (हिंदी गजल/ गी
Ravi Prakash
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
Keshav kishor Kumar
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
Sanjay ' शून्य'
ख़त्म हुआ जो
ख़त्म हुआ जो
Dr fauzia Naseem shad
जीवन का एक चरण
जीवन का एक चरण
पूर्वार्थ
खंड काव्य लिखने के महारथी तो हो सकते हैं,
खंड काव्य लिखने के महारथी तो हो सकते हैं,
DrLakshman Jha Parimal
बेटी
बेटी
Neeraj Agarwal
*अध्यापिका
*अध्यापिका
Naushaba Suriya
दोहा त्रयी. . . शीत
दोहा त्रयी. . . शीत
sushil sarna
😢शर्मनाक दोगलापन😢
😢शर्मनाक दोगलापन😢
*Author प्रणय प्रभात*
संकल्प
संकल्प
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सजी सारी अवध नगरी , सभी के मन लुभाए हैं
सजी सारी अवध नगरी , सभी के मन लुभाए हैं
Rita Singh
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
राजेश बन्छोर
सफलता
सफलता
Ankita Patel
शाश्वत और सनातन
शाश्वत और सनातन
Mahender Singh
"ये कैसी चाहत?"
Dr. Kishan tandon kranti
Jay prakash dewangan
Jay prakash dewangan
Jay Dewangan
💐प्रेम कौतुक-331💐
💐प्रेम कौतुक-331💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मेरे राम
मेरे राम
Prakash Chandra
है जिसका रहमो करम और प्यार है मुझ पर।
है जिसका रहमो करम और प्यार है मुझ पर।
सत्य कुमार प्रेमी
मेरी साँसों से अपनी साँसों को - अंदाज़े बयाँ
मेरी साँसों से अपनी साँसों को - अंदाज़े बयाँ
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मेरा कल! कैसा है रे तू
मेरा कल! कैसा है रे तू
Arun Prasad
जल धारा में चलते चलते,
जल धारा में चलते चलते,
Satish Srijan
मेरी कलम
मेरी कलम
Dr.Priya Soni Khare
घायल तुझे नींद आये न आये
घायल तुझे नींद आये न आये
Ravi Ghayal
सारी दुनिया में सबसे बड़ा सामूहिक स्नान है
सारी दुनिया में सबसे बड़ा सामूहिक स्नान है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
Rj Anand Prajapati
23/78.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/78.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...